सबसे कम उम्र के इस छोटे बच्चे ने बनाया विश्व रिकॉर्ड

अभिमन्यु मिश्रा ने आर प्रग्गानंधा का विश्व में सबसे कम उम्र का अंतरराष्ट्रीय मास्टर बनने का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। हालांकि ग्रैंड मास्टर प्रग्गानंधा ने 30 मई 2016 को 10 महीने 9 महीने और 20 दिन की उम्र में यह उपलब्धि हासिल की थी।

नई दिल्ली: दुनिया में भारत का जलवा कायम रहता है, चाहे वह जो भी क्षेत्र हो। ऐसे ही इस बार भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक अभिमन्यु मिश्रा 10 साल 9 महीने और 3 दिन में दुनिया के सबसे कम उम्र के शतरंज के अंतरराष्ट्रीय मास्टर बन गए हैं।

ये भी पढ़ें—एक दिसंबर को होगी बबीता फोगाट की शादी, मिलेगा मेहमानों को ऐसा खाना

अभिमन्यु मिश्रा ने आर प्रग्गानंधा का विश्व में सबसे कम उम्र का अंतरराष्ट्रीय मास्टर बनने का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। हालांकि ग्रैंड मास्टर प्रग्गानंधा ने 30 मई 2016 को 10 महीने 9 महीने और 20 दिन की उम्र में यह उपलब्धि हासिल की थी।


बता दें कि अभिमन्यु का अगला लक्ष्य अब सबसे युवा ग्रैंडमास्टर बनने का है। फिलहाल यह रिकॉर्ड रूस के सर्गे कर्जकिन के नाम दर्ज है जिन्होंने 12 साल और 7 महीने की उम्र में यह उपलधि हासिल की थी। अभिमन्यु मिश्रा चाहते हैं कि अब वह दुनिया के सबसे युवा ग्रैंडमास्टर बनें।

ये भी पढ़ें—भक्ति की शक्ति! महिला ने रखा था 27 साल का व्रत, फैसला आया तो किया ये काम…