×

पाक की डूबती नैयाः क्या बचा पाएंगे इमरान, लोन को मिली मंजूरी

पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था में सुधार लाने के लिए एशियाई विकास बैंक (ADB) ने 30 करोड़ अमेरिकी डॉलर के नीति-आधारित लोन (Loan) की मंजूरी दे दी है।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 28 Nov 2020 1:29 PM GMT

पाक की डूबती नैयाः क्या बचा पाएंगे इमरान, लोन को मिली मंजूरी
X
पाकिस्तान के आतंकियों का एक वीडियो भी सामने आया है। जिसमें ये सभी मिलकर बालाकोट में हिंदू विरोधी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नारे लगा रहे है।
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

इस्लामाबाद: पहले से ही मंदी की मार झेल रहे पाकिस्तान (Pakistan) की अर्थव्यवस्था कोरोना वायरस महामारी के चलते और पस्त हो गई है। अब पड़ोसी मुल्क की सुस्त पड़ी इकोनॉमी को स्थिरता प्रदान करने के लिए एशियाई विकास बैंक (ADB) ने 30 करोड़ अमेरिकी डॉलर के नीति-आधारित लोन (Loan) की मंजूरी दे दी है। दरअसल, G-20 समिट के 14 सदस्य देशों से पाकिस्तान को 80 करोड़ डॉलर के लोन में छूट मिलने के बाद एशियाई विकास बैंक ने यह ऐलान किया है।

पाकिस्तान पर 25.4 अरब डॉलर बकाया था

बता दें कि इस साल अगस्त तक दुनिया के अमीर देशों के ग्रुप G-20 देशों का पाकिस्तान पर करीब 25.4 अरब डॉलर बकाया था। अब G-20 समिट के 14 सदस्य देशों से पाकिस्तान को 80 करोड़ डॉलर के लोन में छूट दी गई है। जिसके बाद एशियाई विकास बैंक (ADB) ने पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था में स्थिरता लाने के लिए 30 करोड़ अमेरिकी डॉलर के लोन की मंजूरी दे दी है।

यह भी पढ़ें: खाई है कभी ऐसी सब्जीः कीमत जान उड़ जाएंगे होश, है ये सबसे महंगी

imran khan (फाइल फोटो)

लोन के जरिए ऐसे लाया जाएगा सुधार

एडीबी के प्रधान सार्वजनिक प्रबंधन विशेषज्ञ हिरण्य मुखोपाध्याय ने कहा कि 30 करोड़ अमेरिकी डॉलर के नीति-आधारित लोन के जरिए व्यापार प्रतिस्पर्धा और निर्यात विविधीकरण में सुधार लाया जाएगा। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस महामारी ने पाकिस्तान को उस वक्त चोट दी है, जब वह व्यापक आर्थिक सुधार के महत्वपूर्ण बिंदु पर था। जाहिर है कि कोरोना काल में कर्ज के बोझ तले दबे पाकिस्तान की इकोनॉमी को काफी नुकसान हुआ है।

यह भी पढ़ें: 52 करोड़ का शानदार हैंडबैग: दुनिया का सबसे महंगा, बनाने में लगे हजार घंंटे

कभी भारत से भी अच्छी थी इकोनॉमी

उन्होंने कहा कि एडीबी के कार्यक्रम से पाकिस्तान की निर्यात प्रतिस्पर्धा में सुधार आएगा, जिससे पाक के चालू खाते के घाटे को सही करने में सहायता मिलेगी। बता दें कि आज मंदी की मार झेल रहे पाकिस्तान की जीडीपी भारत से भी अच्छी थी। लेकिन आज वो भारत से कहीं ज्यादा पीछे हो चुका है। भारत ना केवल जीडीपी के मामले में पाकिस्तान को पीछे छोड़ चुका है, बल्कि अर्थव्यवस्था के हर मोर्च पर वह काफी आगे हो चुका है।

यह भी पढ़ें: भयानक विस्फोट से कांपा देश: बिछ गईं लाशें ही लाशें, जान बचाने के लिए मची भगदड़

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story