×

हेलिकॉप्टर क्रैश: 2 सैनिकों की मौत, इस देश का दावा हमने गोली से उड़ाया

तालिबान के मुख्य प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने कहा,' अमेरिकियों ने एक मुजाहिदीन के अड्डे पर हमला करना चाहा लेकिन हमने उनके हेलीकॉप्टर को निशाना बनाया और उनमें आग लग गई।

Shivakant Shukla
Updated on: 20 Nov 2019 7:47 AM GMT
हेलिकॉप्टर क्रैश: 2 सैनिकों की मौत, इस देश का दावा हमने गोली से उड़ाया
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

काबुल: अफगानिस्तान में एक हेलीकॉप्टर हादसे में दो अमेरिकी सैनिकों की मौत हो गई है। अमेरिकी सेना ने बुधवार को कहा कि वैसे तो प्रारम्भिक तौर पर यह एक दुर्घटना लग रही है, हालांकि इस पर तालिबान ने दावा किया है कि उन्होंने अमेरिकी सैनिको को मार गिराया है।

यूएस फोर्सेज अफगानिस्तान के एक बयान में कहा गया है कि बुधवार को हुई दुर्घटना की जांच की जा रही थी, हालांकि प्रारंभिक रिपोर्टों से यह संकेत नहीं मिलता है कि यह हमले की वजह से हुआ है। हालांकि दुर्घटना के स्थान का खुलासा नहीं किया गया है और मारे गए लोगों के नाम भी सामने नहीं आया है। इस बीच तालिबान ने दावा किया है कि उसने रात 1 बजे हेलीकॉप्टर को लोगार प्रांत के चरख जिले में गिराया था।

ये भी पढ़ें— हो जाएं सावधान: अगर फ्रिज में रखते हैं ये चीजें, पहुंच जाएंगे मौत के करीब

तालिबान के मुख्य प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने कहा,' अमेरिकियों ने एक मुजाहिदीन के अड्डे पर हमला करना चाहा लेकिन हमने उनके हेलीकॉप्टर को निशाना बनाया और उनमें आग लग गई।

बता दें कि 11 सितंबर, 2001 को अमेरिका में तालिबान के हमलों के साल बाद भी लगभग 13000 अमेरिकी सैनिक अफगानिस्तान में तैनात हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को वापस लेने के लिए उत्सुकता दिखाई है लेकिन संयुक्त चीफ ऑफ स्टाफ के अध्यक्ष जनरल मार्क मिले ने इस महीने अमेरिकी मीडिया को बताया कि अमेरिकी बलों के कई और वर्षों तक बने रहने की संभावना है।

ये भी पढ़ें—आतंकियों की खैर नहीं! ISRO करेगा भारत की रक्षा, दुश्मनों से ऐसे रखेगा सुरक्षित

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story