पाकिस्तान की खुली पोल! अमेरिका का सामने आया ये बड़ा बयान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की मुश्किलें पहले ही मौलाना फजलुर रहमान की वजह से बढ़ी हुई है और इस बीच  अमेरिका ने एक बार फिर से इमरान की मुश्किलों को बढ़ा दिया है।

Published by Shreya Published: November 6, 2019 | 12:54 pm
पाकिस्तान की खुली पोल! अमेरिका का सामने आया ये बड़ा बयान

वाशिंगटन: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की मुश्किलें पहले ही मौलाना फजलुर रहमान की वजह से बढ़ी हुई है और इस बीच  अमेरिका ने एक बार फिर से इमरान की मुश्किलों को बढ़ा दिया है। अमेरिका ने एक रिपोर्ट जारी की है और उसमें बताया गया है कि पाकिस्तान ने आतंकवादियों के खिलाफ पर्याप्त कार्रवाई नहीं की है।

यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र में राजनीति सरगर्मी तेज, कांग्रेस लीडर अहमद पटेल मिले गडकरी से

आतंकियों के खिलाफ नहीं की कार्रवाई

जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि, लश्किर ए तैय्यबा (LeT) और जैश ए मोहम्म द (JeM) सहित अन्य आतंकवादी समूहों के खिलाफ पाकिस्तान ने पर्याप्त कार्रवाई नहीं की है। ये आतंकवादी संगठनों का संचालन पाकिस्तान की ही सरजमीं से हो रहा है। पाकिस्तान में ही इन आतंकियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है और वहां उनका पोषण भी किया जा रहा है।

अमेरिका ने दिया भारत का साथ

रिपोर्ट में कहा गया है कि, पाकिस्तान में सक्रिय ये आतंकवादी संगठन लगातार सेना और नागरिकों को निशाना बना रहे हैं। इन आतंकवादी संगठनों से लगातार भारत को खतरा बना हुआ है। अमेरिका ने भारत का साथ देते हुए, भारत की चिंता को जायज करार दिया है। रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि, इन आतंकवादी संगठनों को पाकिस्तान की ओर से आर्थिक मदद मिलती रही है।

यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र सरकार के गठन पर कशमकश जारी, भागवत से मिले फडणवीस

पाकिस्तान में किया स्वीकार, देश में सक्रिय है संगठन

गौरतलब है कि, कश्मीर में हुए पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय दबाव के चलते आतंकवादी संगठनों पर कार्रवाई के लिए विवश होना पड़ा था। उसके बाद पाकिस्तान ने पहली बार स्वीकार किया था कि, उसके देश में आतंकवादी संगठन सक्रिय हैं। इसके बाद पाक सरकार और सेना की ओर से आतंकवादी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई करने का दावा किया गया था। लेकिन अमेरिका की ओर से जारी इस रिपोर्ट में पाकिस्तान के उन सभी दावों को खारिज कर दिया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि, आतंकवादी अभी भी नागरिकों निशाना बना रहे हैं। इस संगठनों को पाक सरकार का संरक्षण प्राप्त है।

भारत के माओवादियों से भी संबंध

अमेरिकी विदेश विभाग ने दावा करते हुए पाकिस्तान स्थित लश्कर संगठन को भारत में मुंबई आतंकी हमले का जिम्मेदारी ठहराया था। रिपोर्ट में कहा गया है कि, भारत और अफगानिस्तान दोनों इस आतंकवादी संगठन के निशाने पर हैं। आतंकवादी संगठन दोनों देशों में हमले की साजिश रच रहा है। रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि, इन आतंकवादी संगठनों का भारत के माओवादियों से भी संबंध है। इसके साथ इन संगठनों को भारतीय सीमा पर हो रहे हमले के लिए जिम्मेदार ठहराया गया है।

यह भी पढ़ें: ये खिलाड़ी हुआ ट्रोल! विराट को विश करना पड़ा महंगा, जानें क्या है पूरा मामला