जॉनसन प्रोडक्ट से हुई हैं मौते, अगर आप भी यूज़ करते हैं जॉनसन तो हो जाये सावधान

बड़ी खबर यह है कि दुनिया भर में मशहूर फार्मा कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन पर एक बार फिर 57.20 करोड़ डॉलर (करीब 41 अरब रुपए) का जुर्माना लगा है। अमेरिका की एक अदालत ने यह जुर्माना नशीली दवाओं के इस्तेमाल से जुड़े ओपॉयड संकट मामले में लगाया है।

नई दिल्ली. कहीं आप अपने बच्चों के लिए जॉनसन एण्ड जॉनसन का प्रोडक्ट प्रयोग करते हैं तो थोड़ा ठहर जाइये….क्या आप जानते है इनके प्रोडक्ट किन पदार्थों से बने होते हैं। क्या आपको मामूल है… इसके इस्तेमाल से आप की मौत भी हो सकती है।

बड़ी खबर यह है कि दुनिया भर में मशहूर फार्मा कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन पर एक बार फिर 57.20 करोड़ डॉलर (करीब 41 अरब रुपए) का जुर्माना लगा है। अमेरिका की एक अदालत ने यह जुर्माना नशीली दवाओं के इस्तेमाल से जुड़े ओपॉयड संकट मामले में लगाया है।

अमेरिकी अदालत के अनुसार…

अमेरिका की सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन एजेंसी के अनुसार, देश में ओपॉयड के चलते 1999 से 2017 के दौरान करीब 4 लाख लोगों की मौत हुई।

यह भी पढ़े:   छीछी! गंदी फिल्में देखने वाले को बना दिया डिप्टी CM, BJP का ‘कर नाटक’

अदालत ने कहा…

ओकलाहोमा की क्लेवलैंड काउंटी की जिला अदालत के जज थाड बाकमैन ने अपने फैसले में कहा कि कंपनी ने जानबूझकर ओपॉयड के खतरे को नजरअंदाज किया और अपने फायदे के लिए डॉक्टरों को नशीली दर्द निवारक दवाएं लिखने के लिए अपने पक्ष में किया।

जज ने दिया आदेश…

जज ने राज्य सरकार की ओर से ओपॉयड पीड़ितों के इलाज के लिए मांगी गई राशि के मुकाबले जॉनसन एंड जॉनसन को काफी कम भुगतान करने का आदेश दिया है. राज्य सरकार ने 17 अरब डॉलर की मांग की थी।

यह भी पढ़े:    लाखों का बिल देख गिर पड़ी 8 बच्चों की मां, ऐसा है यूपी का बिजली विभाग

इससे पहले भी लगा है जुर्माना…

बताया जा रहा है कि ‘जॉनसन एंड जॉनसन’ की घटिया हिप इंप्लांट का शिकार दुनिया भर के मरीज हुए हैं। इसी साल 7 मई को कंपनी ने अमेरिका की एक कोर्ट में एक बिलियन डॉलर का जुर्माना भरा। कंपनी के खिलाफ यहां करीब 6000 केस दायर हुए थे। कंपनी पर आरोप लगे थे कि साल 2003 से 2013 तक लोग घटिया हिप इंप्लांट के शिकार हुए।

तोड़ा है कानून…

इसके साथ ही जज ने कहा कि जॉनसन एंड जॉनसन ने राज्य के कानून तोड़ा है। कंपनी की गलत, भ्रामक और खतरनाक मार्केटिंग के कारण तेजी से नशे की लत बढ़ी और ओवरडोज से मौत के मामले सामने आए है।

कंपनी की अरबों डॉलर की कमाई…

बताया गया कि कंपनी ने इससे 20 साल के दौरान इस प्रोडक्ट से अरबों डॉलर की कमाई की है। इस फैसले पर ओपॉयड दवा बनाने वाली करीब दो दर्जन कंपनियों की नजर थी, क्योंकि इन दवाओं को बनाने वाली कंपनियों, वितरकों और विक्रेताओं पर अमेरिका में इसी तरह के करीब 2500 मुकदमे चल रहे हैं।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App