Top

हजारों सैनिकों की मौत! इन दो देशों में भयानक युद्ध, अब तबाही की चेतावनी

अजरबैजान ने चेतावनी दी है कि नागरिक ठिकानों पर हमले बंद नहीं हुए तो वह आर्मीनिया में मौजूद सैन्य ठिकानों पर हमले कर उन्हें तबाह कर देगा।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 5 Oct 2020 3:37 PM GMT

हजारों सैनिकों की मौत! इन दो देशों में भयानक युद्ध, अब तबाही की चेतावनी
X
अजरबैजान ने चेतावनी दी है कि नागरिक ठिकानों पर हमले बंद नहीं हुए तो वह आर्मीनिया में मौजूद सैन्य ठिकानों पर हमले कर उन्हें तबाह कर देगा।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: आर्मीनिया और अजरबैजान के बीच भीषण युद्ध हो रहा है। दोनों देश एक दूसरे पर तोप, घातक मिसाइलों और फाइटर जेट से हमले कर रहे हैं। अब इस युद्ध की चपेट में अजरबैजान का दूसरा सबसे बड़ा शहर भी आ गया है। अजरबैजान के अधिकारियों ने बताया है कि आर्मीनिया की सेना ने उनके देश के दूसरे सबसे बड़े शहर गांजा पर हमला किया है।

अजरबैजान के राष्ट्रपति के सहयोगी हिकमेत हाजियेव ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है जिसमें क्षतिग्रस्त इमारतें दिखाई दे रही हैं। उन्होंने कहा कि गांजा में सघन आवासीय बस्तियों पर आर्मीनिया ने बड़े मिसाइलों से हमला किया है। हालांकि वीडियो की सत्यता की अभी पुष्टि नहीं हो पाई है। अजरबैजान के राष्ट्रपति के सहयोगी ने अपने एक दूसरे बयान में कहा कि गांजा तथा अजरबैजान के अन्य इलाकों में आर्मीनिया के इलाकों से हमले किये गए हैं।

अजरबैजान ने कहा है कि दुश्मन अब नागरिकों को निशाना बना रहा है। गांजा शहर में आर्मेनिया के रॉकेट हमले में एक नागरिक की मौत हो गई है जबकि चार घायल हुए हैं। अजरबैजान ने चेतावनी दी है कि नागरिक ठिकानों पर हमले बंद नहीं हुए तो वह आर्मीनिया में मौजूद सैन्य ठिकानों पर हमले कर उन्हें तबाह कर देगा।

Armenia-Azerbaijan War

यह भी पढ़ें...तुर्की के राष्ट्रपति ने दिया ऐसा बयान, भड़क उठा सऊदी अरब, कर दिया ये बड़ा ऐलान

आर्मीनिया के रक्षा मंत्रालय ने हिकमेत हाजियेव के बयान को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि आर्मीनिया की सरजमीं से अजरबैजान की तरफ कोई हमला नहीं किया गया है। तो वहीं नागोरनो-काराबाख के नेता अरायिक हारुतयुन्यान ने फेसबुक पर इस बात की पुष्टि की कि उन्होंने गांजा में सैन्य ठिकानों को नेस्तानाबूद करने के लिए हमले का आदेश दिया था। नागोरनो-काराबाख के अधिकारियों ने बताया कि अब तक उनके 200 से ज्यादा सैनिकों की मौत हो गई है।

यह भी पढ़ें...जवान की शहादत पर रोया देश: बुझ गया इकलौता चिराग, रो-रोकर बेहाल हुआ परिवार

अरायिक हारुतयुन्यान के प्रवक्ता वहराम पोघोस्यान का कहना है कि क्षेत्र की सेना ने गांजा में एक सैन्य हवाईअड्डे को तबाह कर दिया है, लेकिन अजरबैजान के अधिकारियों ने इस दावे को खारिज किया है।

अजरबैजान के विदेश मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा कि शहर पर हमले में एक नागरिक की जान चली गई है जबिक चार अन्य घायल हो गए। हारुतयुन्यान का कहना है कि उन्होंने अपनी सेना को गांजा पर हमले रोकने का आदेश दिया है ताकि आम नागरिकों को नुकसान ना हो।

Armenia-Azerbaijan War

यह भी पढ़ें...रेल का सफर होगा महंगा! इतने प्रतिशत बढ़ेगा किराया, रेलवे लेने जा रहा ये फैसला

27 सितंबर से हुई है जंग शुरू

इससे पहले अजरबैजान के राष्ट्रपति ने बताया कि उनकी सेन ने एक शहर समेत कई गांवों पर कब्जा कर लिया है। तो वहींआर्मीनियाई का कहना है कि उनकी सेना ने विरोधी पक्ष को भारी नुकसान पहुंचाया है। दोनों देशों के बीच 27 सितंबर से जंग शुरू हुई है। बताया जा रहा है कि अब इस युद्ध में 5300 सैनिकों की मौत हो गई है, तो वहीं 3300 आम लोगों की जान चली गई है। अजरबैजान के तहत आता है, लेकिन इस पर आर्मीनियाई की सेना का नियंत्रण है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story