×

तबाह हो गया ये देशः बदल गयी बेरुत की सूरत, मानो एटम बम गिरा हो

राष्ट्रपति मिशेल आउन ने कहा है कि इस बात को किसी भी तरह स्वीकार नहीं किया जा सकता कि आख़िर कैसे 2,750 टन अमोनियम नाइट्रेट वहाँ असुरक्षित तरीक़े से रखा हुआ था. धमाका इतना ज़बरदस्त था कि उसकी आवाज़ 240 किलोमीटर दूर साइप्रस तक में सुनाई दी

Newstrack
Updated on: 6 Aug 2020 11:56 AM GMT
तबाह हो गया ये देशः बदल गयी बेरुत की सूरत, मानो एटम बम गिरा हो
X
beirut explosion
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नील मणि लाल

नई दिल्ली: एक गोदाम में रखे 2750 टन अमोनियम नाइट्रेट के भंडार में हुए धमाके ने लेबनान की राजधानी बेरुत की तस्वीर ही बदल दी है. इस धमाके में कम-से-कम 135 लोगों की जान गई और 4,000 से ज़्यादा लोग घायल हो गए. बंदरगाह के पास स्थित इस गोदाम में पिछले छह साल से ज़ब्त किया हुआ अमोनियम नाइट्रेट का भंडार जमा था.

तेरे सीने में गोली मार दूंगाः लड़की के साथ जाकर धमकी, वीडियो वायरल

हिरोशिमा की याद दिला दी

hiroshima

लेबनान के प्रधानमंत्री हसन दियाब ने इसे प्रलयंकारी घटना बताया और कहा कि ज़िम्मेदार लोगों को नहीं बख़्शा जाएगा. वहीं राष्ट्रपति मिशेल आउन ने कहा है कि इस बात को किसी भी तरह स्वीकार नहीं किया जा सकता कि आख़िर कैसे 2,750 टन अमोनियम नाइट्रेट वहाँ असुरक्षित तरीक़े से रखा हुआ था. धमाका इतना ज़बरदस्त था कि उसकी आवाज़ 240 किलोमीटर दूर साइप्रस तक में सुनाई दी. इस घटना ने जापान के हिरोशिमा में अमेरिका के एटम बम हमले की दुखद याद ताजा कर दी है.

देश को 3 से 5 अरब डॉलर तक का नुकसान

beirut explosion

कोरोनावायरस के दौर में इस वारदात ने लेबनान पर बहुत बड़ा संकट डाल दिया है. यहां का हेल्थ सेक्टर पहले ही दबाव में है वहीं देश आर्थिक संकट से भी जूझ रहा है. बेरूत के गवर्नर मरवान अबूद ने कहा कि इससे देश को 3 से 5 अरब डॉलर तक का नुकसान हुआ हो सकता है. उन्होंने यह भी कहा कि कम से कम ढाई से तीन लाख लोग बेघर हो चुके हैं.

गधे के विवाद में गई जानः खेत में घुसने पर हुआ झगड़ा, घोंप दिया युवक के चाकू

धमाके में लेबनान का मुख्य अनाज भण्डार गृह भी बर्बाद

धमाके में लेबनान का मुख्य अनाज भण्डार गृह भी बर्बाद हो गया है. वित्त मंत्री राउल नेह्मे ने कहा कि इस धमाके बाद लेबनान के पास एक महीने से भी कम का सुरक्षित अनाज बचा है. लेकिन आटा पर्याप्त है इसलिए संकट से बचा जा सकता है. आर्थिक संकट के कारन अनाज आयात करने के लिए लेबनान के पास पैसे नहीं हैं. वित्त मंत्री ने कहा कि धमाके में तबाह हुए अनाज गोदामों में कम से कम 15 हज़ार टन अनाज की बर्बादी हुई है. लेबनान ज़्यादातर खाद्य सामग्री आयात करता है और अनाज का बड़ा हिस्सा बंदरगाह पर स्टोर करके रखा जाता है.

अमोनियम नाइट्रेट

ammonium nitrate

अमोनियम नाइट्रेट एक गंधहीन केमिकल पदार्थ है और सामान्यतः इसका सबसे ज़्यादा प्रयोग दो कामों में होता है - खेती के लिए उर्वरक के तौर पर और निर्माण या खनन कार्यों में विस्फोटक के तौर पर.

ये अत्यंत विस्फोटक केमिकल होता है. आग लगने पर इसमें धमाका होता है और उसके बाद ख़तरनाक गैस निकलने लगती हैं जिनमें नाइट्रोजन ऑक्साइड और अमोनिया गैस शामिल हैं. चूँकि ये अत्यंत ज्वलनशील केमिकल होता है, इसलिए इसके रख-रखाव के लिए कड़े नियम बने हैं. अमोनियम नाइट्रेट के भंडार में धमाके की घटनाएँ अमेरिका, चीन, फ़्रांस आदि देशों में पहले भी हो चुकी हैं.

- 2013 में अमेरिका के टेक्सस राज्य में एक फ़र्टिलाइज़र प्लांट में धमाका हुआ था जिसमें 15 लोगों की मौत हुई थी.

- 2001 में फ़्रांस के टुलूज़ में भी एक केमिकल प्लांट में धमाका हुआ था जिसमें 31 लोग मारे गए थे.

- 1995 में अमेरिका के ओकलाहोमा में हुए धमाके में इस्तेमाल हुए बम में भी अमोनियम नाइट्रेट पाया गया था.

टाण्डा का एमसीएच विंगः दो सौ बेड के अस्पताल में भी होगा कोरोना मरीजों का इलाज

Newstrack

Newstrack

Next Story