कश्मीर पर चीन की बड़ी चाल, पाकिस्तान के साथ मिलकर रची ये बड़ी साजिश

कश्मीर मुद्दे पर चीन अपनी चाल से बाज नहीं आ रहा है। उसने एक बार फिर बड़ी चाल चली है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में एक बार फिर कश्मीर मुद्दे पर बंद कमरे में चर्चा की मांग की है।

नई दिल्ली: कश्मीर मुद्दे पर चीन अपनी चाल से बाज नहीं आ रहा है। उसने एक बार फिर बड़ी चाल चली है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में एक बार फिर कश्मीर मुद्दे पर बंद कमरे में चर्चा की मांग की है। पिछले महीने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में बंद कमरे में बैठक की कोशिश नाकाम हो गई थी। बताया जा रहा है कि यूएनएससी में कश्मीर मुद्दे पर चर्चा के लिए चीन की मांग मान ली गई है।

लेकिन उसके मंसूबे पर फिर पानी फिरता दिख रहा है, क्योंकि सुरक्षा परिषद के बाकी सभी सदस्य इसका विरोध कर सकते हैं। पिछले साल भी चीन की पहल पर कश्मीर मुद्दे पर सुरक्षा परिषद की ‘बंद कमरे में बैठक’ हुई थी जिसमें वह अलग-थलग पड़ गया था। बंद कमरे में बैठक पूरी तरह अनौपचारिक होती है, जिसका कोई रिकॉर्ड तक मैंटेन नहीं होता है।

फ्रांसीसी राजनयिक सूत्रों के मुताबिक, फ्रांस को यूएनएससी के एक सदस्य की तरफ से एक बार फिर कश्मीर मुद्दा उठाने का अनुरोध मिला है और पिछली बार की तरह इस बार भी वह इसका विरोध करेगा।

यह भी पढ़ें…आतंकियों के साथ पकड़े गए सेना के अफसर पर बड़ी कार्रवाई,जानिए आज का घटनाक्रम

दरअसल यूएनएससी ने एक अफ्रीकन देश से जुड़े मुद्दे पर चर्चा के लिए बंद कमरे में बैठक बुलाई है। इसके बाद चीन ‘अन्य विषय’ के एजेंडा के तहत कश्मीर मुद्दे पर भी चर्चा के लिए गुजारिश की है।

ह भी पढ़ें…सुपरस्टार रजनीकांत ने मीडिया से की ये बड़ी अपील, कह दी ये बात

मिली जानकारी के मुताबिक, फ्रांस के रुख में कोई बदलाव नहीं आया है और वह पूरी तरह स्पष्ट है- कश्मीर मुद्दा द्विपक्षीय बातचीत से हल होना चाहिए। आगे बताया गया है कि कि फ्रांस तमाम मौकों पर अपने इस रुख को स्पष्ट कर चुका है और वह सुरक्षा परिषद में भी इस रुख को बार-बार दोहराएगा।

ह भी पढ़ें…चीन में लोगों को हो रही ये खतरनाक बीमारी, दुनिया में मचा हड़कंप, यह खाने से…

पिछले महीने भी फ्रांस, अमेरिका, ब्रिटेन और रूस ने सुरक्षा परिषद में कश्मीर मुद्दे पर चर्चा के लिए ‘बंद कमरे में बैठक’ की चीन की कोशिशों को नाकाम किया था। चीन जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन का विरोध कर रहा है।