×

इस्लामिक स्थलों के खिलाफ इस देश ने शुरू की बड़ी कार्रवाई, जानकर खौल उठेगा खून

छोटे मक्का  के नाम से फेमस शहर लिनझिआ की मस्जिद में अरब देशों की तर्ज पर बनाए गए गुंबद को हटा दिया गया है। शी जिनपिंग के चाइनीज कम्युनिस्ट पार्टी के जनरल सेक्रेटरी बनने के बाद से ही चीन में धार्मिक स्थलों के खिलाफ अभियान में तेजी आ गई थी।

Newstrack
Updated on: 2 Nov 2020 8:12 AM GMT
इस्लामिक स्थलों के खिलाफ इस देश ने शुरू की बड़ी कार्रवाई, जानकर खौल उठेगा खून
X
इधर हाल के दिनों में चीन में तमाम धार्मिक स्थलों पर कार्रवाई के मामले बढ़े हैं। विभिन्न धर्मों के धार्मिक स्थलों को कम्युनिस्ट पार्टी के हिसाब से बदलने की कोशिश की जा रही है।
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बीजिंग: चीन ने अपने मुल्क के अंदर इस्लाम का प्रभाव कम करने की कवायद तेज कर दी है। इसी कड़ी में चीन के अंदर बने मस्जिदों की शक्ल बदली जा रही है।

मस्जिदों के गुंबद और अन्य सजावटी हिस्से हटाए जा रहे हैं। चीन ने अपनी नापाक हरकत को कल्चरल व्हाइटवाश कैंपेन का नाम दिया है। मुसलमानों को दबाने के आरोप चीन पर बहुत पहले से लगते रहे हैं।

वीगर मुसलमानों को प्रताड़ित करने के मामले में चीन की दुनिया भर में काफी फजीहत भी हुई है। चीन ने अब मस्जिदों को वजूद खत्म करने के लिए अभियान छेड़ दिया है।

Xi jinping चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (फोटो: सोशल मीडिया)

ये भी पढ़ें:हाथरस कांड: एसआईटी ने यूपी सरकार को सौंपी रिपोर्ट, DM पर हो सकता है एक्शन

नानगुआन मस्जिद के चमकीले हरे गुंबद और अन्य हिस्सों को हटाया गया

नीनझिआ प्रोविन्स की राजधानी यीनचुआन के नानगुआन मस्जिद के चमकीले हरे गुंबद और अन्य हिस्सों को हटा दिया गया है। जिसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर क्रिस्टिना स्कॉट ने शेयर की हैं।

वह चीन में ब्रिटिश मिशन की डिप्टी हेड हैं। शेयर की गई तस्वीरों में नानगुआन मस्जिद बिना गुंबद के नजर आ रही है। उन्होंने लिखा कि ट्रिपएडवाइजर इस मस्जिद में घूमने की सलाह देता है, लेकिन यहां किसी भी व्यक्ति को घूमने की परमिशन नहीं है।

ये भी पढ़ें:आतंकियों से कांपा पंजाब: अब हुए सीएम के खून के प्यासे, अलर्ट हुआ सुरक्षा विभाग

china चीन का ध्वज (फोटो- सोशल मीडिया)

चीन की बड़ी चाल

इसके अलावा छोटे मक्का के नाम से फेमस शहर लिनझिआ की मस्जिद में अरब देशों की तर्ज पर बनाए गए गुंबद को हटा दिया गया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार शी जिनपिंग के चाइनीज कम्युनिस्ट पार्टी के जनरल सेक्रेटरी बनने के बाद से ही चीन में धार्मिक स्थलों के खिलाफ अभियान में तेजी आ गई थी।

इधर हाल के दिनों में चीन में तमाम धार्मिक स्थलों पर कार्रवाई के मामले बढ़े हैं। विभिन्न धर्मों के धार्मिक स्थलों को कम्युनिस्ट पार्टी के हिसाब से बदलने की कोशिश की जा रही है।

तिब्बती बच्चों को बौद्ध धर्म की शिक्षा लेने से भी चीन ने रोकने का काम किया है। वहीं, चर्च और मस्जिद से जुड़ी कई गाइडलाइंस जारी की गई हैं। जिसमें करीब 10 लाख मुस्लिमों को चीन में रि-एजुकेशन के नाम पर कैंप में ठहराया गया है।

ये भी पढ़ें…मोदी का एलान: NDA सरकार बनी तो मातृभाषा में मेडिकल व इंजीनियरिंग की पढ़ाई

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story