कोरोना से हारा ये देश: नहीं बचा पा रहा जान, मौत का आंकड़ा 1600 पार

चीन में कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। अब तक इससे मरने वालो की संख्या 1600 तक पहुंच गई है। वहीं इससे संक्रमण के कुल 67,535 मामले सामने आए है।

वुहान: चीन में कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। अब तक इससे मरने वालो की संख्या 1600 तक पहुंच गई है। वहीं इससे संक्रमण के कुल 67,535 मामले सामने आए है। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि इस संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित हुबेई हुआ है, जहां शुक्रवार को 2,420 नए मामले सामने आए हैं। इनमें से 139 लोगों की मौत हो गई। आयोग ने बताया कि इसके अलावा हेनान में दो और बीजिंग एवं चोंगक्विंग में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है।

ये भी पढ़ें:BIGG BOSS 13: सिद्धार्थ शुक्ला ने जीता बिग बॉस का ताज और इतने लाख का ईनाम

कोरोना से निपटने के लिए खर्च किए 80।55 अरब युआन

चीन में फैले कोरोना वायरस निमोनिया के प्रकोप के बाद वहां रह रहे लोगों को विभिन्न स्तरीय वित्तीय विभागों ने सिलसिलेवार धन मुहैया कराया है। 13 फरवरी तक चीन के विभिन्न जगहों के संबंधित विभागों ने कुल 80.55 अरब चीनी युआन का योगदान दिया है। जिससे इस बिमारी की रोकथाम की जा सके।

चीनी वित्त मंत्रालय के महामारी कार्य नेतृत्व दल के प्रभारी फू चिनलिन ने चीनी राज्य परिषद ने कहा कि हाल में चीन की केंद्र सरकार ने 17।29 अरब चीनी युआन हुबेई प्रांत और देश के विभिन्न स्थलों की महामारी रोकथाम, हुबेई प्रांत की केंद्रीय बुनियादी संरचनाओं के निवेश में इस्तेमाल किया है।

ये भी पढ़ें:केजरीवाल के शपथ समारोह में शिक्षकों के निमंत्रण पर बवाल, BJP नेता ने कहा-

महामारी से प्रभावित होकर कुछ व्यवसाय, खास तौर पर मध्यम व छोटे उद्यमों के सामने अपेक्षाकृत भारी दबाव आया है। कुछ उद्यमों में उत्पादन स्थगित हुआ है। इसको देखते हुए चीन के संबंधित विभागों ने वित्तीय समर्थन नीतियां जारी कीं और छोटे व माइक्रो उद्यमों के लिए कर को कम किया है।