चीन का उड़ा मजाक: अमेरिका ने ले ली फिरकी, अब हो रहा जबरदस्त ट्रोल

चीन अब अपने ही जाल में चारों तरफ से घिरा हुआ दिखाई दे रहा है। भारत, अमेरिका से तनातनी के साथ ही हांगकांग, ताइवान और जापान से भी चीन के रिश्ते बहुत खराब होते जा रहे है।

नई दिल्ली : चीन अब अपने ही जाल में चारों तरफ से घिरा हुआ दिखाई दे रहा है। भारत, अमेरिका से तनातनी के साथ ही हांगकांग, ताइवान और जापान से भी चीन के रिश्ते बहुत खराब होते जा रहे है। चीन के अड़ियलपने ने उसकी दुश्मनी को काफी ज्यादा नुकीला बना दिया है। ऐसे में खुद को चारों तरफ से घिरा देखने के बाद चीनी मीडिया अन्य देशों को डराने धमकाने की कोशिशों में लगी हुई है। पिछले दिनों चीनी सरकारी अखबार ने अमेरिका की नौसेना को अपना निशाना बनाते हुए एक धमकी भरा ट्वीट किया था। जिसका अमेरिका नौसेना ने भी टक्कर का जवाब दिया है।

ये भी पढ़ें…चीन को मुंहतोड़ जवाब देने की तैयारी, अमेरिका से अनोखा ड्रोन खरीदेगा भारत

धमकी का मजाक उड़ाते हुए

आपको बता दें कि बीते रविवार को ग्लोबल टाइम्स ने चीन के मिसाइलों की फोटोज पर ट्वीट करते हुए अमेरिका को धमकी दी थी। लेकिन अमेरिकी नौसेना ने चीन की इस धमकी का मजाक उड़ाते हुए उसे ट्विटर पर ट्रोल कर दिया।

बात ये है कि ग्लोबल टाइम्स ने धमकी भरे मिजाज में उन हथियारों के नाम गिनाए थे जो कि एयरक्राफ्ट कैरियर्स को नष्ट करने में समर्थ हैं।

ये भी पढ़ें…राशिफल 6 जुलाई: सावन का पहला सोमवार, जानें किसी राशि का आज भाग्य देगा साथ

चीफ ऑफ इनफॉर्मेशन ने ट्वीट कर कहा

हालांकि इस पर जवाब देते हुए अमेरिकी नौसेना के चीफ ऑफ इनफॉर्मेशन ने ट्वीट कर कहा कि- इस सब के बावजूद भी हमारे दो एयरक्राफ्ट कैरियर साउथ चाइना सी के अंतरराष्ट्रीय जलक्षेत्र में गश्त कर रहे हैं।

इस पर मजे लेते हुए अमेरिकी नौसेना (यूएस नेवी) ने लिखा कि यूएसएस निमित्ज और यूएसएस रोनाल्ड रीगन हमारे विवेक से भयभीत नहीं हैं।

ये भी पढ़ें…भारत में कोरोना का कहर: 24 घंटे में आए रिकाॅर्ड तोड़ मरीज, इतन लोगों की हुई मौत

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App