US एक्सपर्ट ने कहा- कोरोना से लड़ने में पिछड़ गए ट्रंप, की चीन की तारीफ

जहां से इस कोरोना की शुरुआत हुई, उस देश में कोरोना अब नियंत्रण में है। जिसके लिए अमेरिकी विदेशी मामलों के विश्लेषक फरीद जकारिया ने चीन की तारीफ की है।

US एक्सपर्ट ने कहा- कोरोना से लड़ने में पिछड़ गए ट्रंप, की चीन की तारीफ

US एक्सपर्ट ने कहा- कोरोना से लड़ने में पिछड़ गए ट्रंप, की चीन की तारीफ

नई दिल्ली: कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले रखा है। दुनियाभर में करीब 11 लाख 10 हजार से ज्यादा लोग इस जानलेवा वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। वहीं इस वायरस के चलते 60 हजार से ज्यादा लोगों की मौत भी हो चुकी है। वहीं जहां से इस कोरोना की शुरुआत हुई, उस देश में कोरोना अब नियंत्रण में है। जिसके लिए अमेरिकी विदेशी मामलों के विश्लेषक फरीद जकारिया ने चीन की तारीफ की है।

चीन ने कहीं बेहतर ढंग से कोरोना से निजात पाया है

फरीद जकारिया ने चीन की तारीफ करते हुए कहा कि कोई भी व्यक्ति जितनी कल्पना कर सकता है, चीन ने उससे कहीं बेहतर ढंग से कोरोना से निजात पाया है। फरीद ज़कारिया ने ये बातें एक मीडिया इंटरव्यू के दौरान कही है।

यह भी पढ़ें: आतंकी सलाहुद्दीन ने उगली आग, कहा- मुसलमानों पर जुल्म का नतीजा है कोरोना

चीन में मरने वालों की संख्या 3,322

बता दें कि चीन में कोरोना वायरस से कुल 81 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हुए थे, जबकि इनमें से 3 हजार 322 लोगों की मौत हुई है। वहीं पूरी दुनिया भर की बात की जाए तो विश्वभर में करीब 60 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

घर पर रहकर खत्म किया जा सकता है कोरोना

फरीद जकारिया ने मीडिया इंटरव्यू के दौरान बताया कि अगर पूरी दुनिया में लोग 14 दिनों तक घर पर ही रहें तो कोरोना वायरस खत्म हो जाएगा। उन्होंने कहा कि सैद्धांतिक (Theoretical) रूप से यह संभव था क्योंकि यह वायरस आगे नहीं बढ़ पाएगा। हालांकि यह व्यावहारिक समाधान (Practical solution) नहीं था। फरीद जकारिया ने कहा कि इस वक्त हर किसी को जितना संभव हो, एक-दूसरे से दूर रहना चाहिए।

यह भी पढ़ें: आतंकी सलाहुद्दीन ने उगली आग, कहा- मुसलमानों पर जुल्म का नतीजा है कोरोना

ट्रांसमिशन की प्रक्रिया को रोकना होगा

उन्होंने कहा कि, यदि आप दक्षिण कोरिया, सिंगापुर, हांगकांग जैसे देशों को देखें, जिसने (कोरोना से निपटने में) सफलता पाई है और यहां तक कि चीन ने भी सफलता पाई है, तो इसका मतलब है कि आपको ट्रांसमिशन की प्रक्रिया को रोकना होगा। उन्होंने कहा कि आपको ट्रांसमिशन की प्रक्रिया को तभी रोका जा सकता है, जब इसे रोकने का रवैया अपनाएगा।

अमेरिकी को लग सकता है आर्थिक झटका

फरीद जकारिया ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लंबे समय तक कोरोना वायरस की बड़ी समस्या को अनदेखा करते रहे। उन्होंने कहा कि अब ऐसी स्थिति पैदा हो गई है कि अमेरिकी को आर्थिक झटका लग सकता है। उन्होंने कहा कि अमेरिका ने पहले वैश्विक स्वास्थ्य संकट जैसे मामलों स्वाइन फ्लू, इबोला से लड़ने में कामयाब रहा, लेकिन कोरोना वायरस के मामले में वह फेल रहा है।

यह भी पढ़ें: आ गया संडे: कोरोना के अंधकार को देश करेगा खत्म, रात 9 बजे ऐसा होगा नजारा

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App