Top

कोरोना महामारी पर WHO ने दी चेतावनी, दुनियाभर में फैली दहशत

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने चेतावनी दी। डब्ल्यूएचओ का कहना है कि अभी कोरोना की तीसरी या चौथी लहर आ सकती है। इसलिए दुनियाभर के सभी देशों को कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने की कोशिशों जारी रखनी चाहिए और इसमें बिल्कुल भी कमी ना करें। 

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 7 March 2021 1:38 PM GMT

कोरोना महामारी पर WHO ने दी चेतावनी, दुनियाभर में फैली दहशत
X
कोरोना वायरस एक बार फिर दुनियाभर में तेजी से फैलने लगा है। पूरी दुनिया में बीते 24 घंटे में तीन लाख से अधिक नए मामले सामने आए हैं।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: कोरोना वायरस एक बार फिर दुनियाभर में तेजी से फैलने लगा है। पूरी दुनिया में बीते 24 घंटे में तीन लाख से अधिक नए मामले सामने आए हैं। अब संक्रमितों की संख्या बढ़कर 11 करोड़ 70 लाख से भी ज्यादा हो गई है। अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के आंकड़ों में बताया गया है कि पूरी दुनिया में अब तक 26 लाख से अधिक लोग इस महामारी से जान गंवा चुके हैं।

अब इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने चेतावनी दी। डब्ल्यूएचओ का कहना है कि अभी कोरोना की तीसरी या चौथी लहर आ सकती है। इसलिए दुनियाभर के सभी देशों को कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने की कोशिशों जारी रखनी चाहिए और इसमें बिल्कुल भी कमी ना करें।

यह समझना सबसे बड़ी भूल होगी कि कोरोना वायरस खत्म हो चुका है

एक मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस अधानोम ने कहा कि हम यह मानते हैं कि लोग कोरोना से जुड़े प्रतिबंधों का पालन करते-करते थक चुके हैं। उन्होंने कहा कि लेकिन यह समझना हमारी सबसे बड़ी भूल होगी कि कोरोना वायरस खत्म हो चुका है। कोरोना की गिरती मृत्यु दर का हवाला देते हुए उन्होंने यह बयान दिया है।

Coronavirus

ये भी पढ़ें..मिला सोने का पहाड़: देख यहां मच गई ऐसी भगदड़, एक के ऊपर एक टूटे लोग

टेड्रोस अधानोम ने ब्राजील में बिगड़ते हालात पर चिंता जताई है। वहां के राष्ट्रपति जेयर बोल्सोनारो ने कोरोना से जुड़े प्रतिबंधों को गैर-जरूरी बताया है। टेड्रोस अधानोम का कहना है कि एक तरफ जहां दुनिया के अधिकांश देशों में संक्रमण के मामले लगातार घट रहे हैं, तो वहीं ब्राजील की स्थिति में कोई सुधार होता नहीं दिख रहा है। उन्होंने कहा कि ब्राजील की सरकार को इसे गंभीरता से लेना चाहिए।

वायरस के म्यूटेशन का मूलकेंद्र बन सकता है ब्राजील

पिछले साल के अंत में ब्राजील में कोरोना का नया वेरिएंट पाया गया था। यह शुरुआती वायरस से ज्यादा तेजी से फैलता है। विशेषज्ञों ने चेताया है कि अगर ब्राजील संक्रमण को नियंत्रित नहीं कर पाता है तो यह वायरस के म्यूटेशन का मूलकेंद्र बन सकता है, जिससे हालात और खराब हो जाएंगे।

ये भी पढ़ें..तबाह होगी धरती: वैज्ञानिकों ने किया ऐसा दावा, वजह जानकर हो जाएंगे हैरान

दूसरी तरफ देश में वैक्सीनेशन अभियान की रफ्तार बढ़ाने की कोशिश की जा रही है। स्वास्थ्य मंत्री ने हाल ही में फाइजर की कोरोना वैक्सीन की 10 करोड़ खुराक खरीदने का ऐलान किया है। जॉनसन एंड जॉनसन से भी लगभग 4 करोड़ खुराकें खरीदी जाएंगी।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story