सिर पर ‘दुपट्टा’, फोन में ‘अल्लाह’ लिखने पर प्लेन से तीन मुस्लिम यात्रियों को उतारा

डेल्टा एयरलाइन्स पर अमेरिका ने 50,000 डॉलर (35,66,275 रुपए) का जुर्माना लगाया है। अमरिकी परिवहन विभाग का कहना है कि डेल्टा एयरलाइन्स ने तीन मुस्लिम यात्रियों को जहाज से उतार दिया।

वॉशिंगटन: डेल्टा एयरलाइन्स पर अमेरिका ने 50,000 डॉलर (35,66,275 रुपए) का जुर्माना लगाया है। अमरिकी परिवहन विभाग का कहना है कि डेल्टा एयरलाइन्स ने तीन मुस्लिम यात्रियों को जहाज से उतार दिया।

जिसके बाद ये कदम उठाया गया है। अमेरिकी परिवहन विभाग का कहना है कि डेल्टा एयरलाइन्स ने ऐसा करके मुस्लिम यात्रियों के साथ भेदभावपूर्ण व्यवहार किया है।

ये भी पढ़ें…क्या आप जानते हैं एक लीटर पेट्रोल में कितना चलता है हवाई जहाज?

प्राप्त जानकारी के अनुसार, 26 जुलाई 2016 की एक घटना में पेरिस के चार्ल्स डी गॉल एयरपोर्ट पर एक मुस्लिम जोड़े को डेल्टा फ्लाइट 229 से उतार दिया गया था। दोनों यात्रियों के बारे में एक यात्री ने एक फ्लाइट अटेंडेंट को बताया कि उनके व्यवहार ने उसे ‘बहुत असहज’ कर दिया। शिकायत करने वाले यात्री ने कहा कि महिला ने सिर पर दुपट्टा पहना हुआ था और पुरुष ने अपनी घड़ी में कुछ डाला था।

फ्लाइट अटेंडेंट ने कहा कि उसने कई बार पुरुष को अल्लाह शब्द लिखते हुए टेक्सटिंग करते देखा। इसके बाद फ्लाइट कैप्टन ने डेल्टा की कॉर्पोरेट सिक्योरिटी के साथ बात की, जिन्होंने कहा कि दोनों अमेरिकी नागरिक घर लौट रहे थे और कहीं कोई रुकावट नहीं थी।’

ये भी पढ़ें…भारत ने तैनात किया जंगी जहाज, चीन और पाकिस्तान कर रहे…

कैप्टन पर लगाया भेदभाव का आरोप

कैप्टन ने उन्हें विमान से यात्रा करने से मना कर दिया। परिवहन विभाग ने कहा कि डेल्टा के फ्लाइट कैप्टन सिक्योरिटी प्रोटोकॉल को फॉलो नहीं कर पाए और ऐसा लगता है कि यात्रियों के कथित धर्म के चलते उन्हें जहाज से उतार दिया।

आदेश में शामिल दूसरी घटना में एक अन्य मुस्लिम यात्री शामिल था, जो 31 जुलाई 2016 को न्यूयॉर्क के लिए एम्स्टर्डम में फ्लाइट 49 पर सवार हुआ था। अन्य यात्रियों और फ्लाइट अटेंडेंट्स ने उनके बारे में शिकायत की, लेकिन अधिकारी ने उनके बारे में कुछ भी असामान्य नहीं देखा और डेल्टा सुरक्षा ने भी कहा कि यात्री के रिकॉर्ड में कोई दिक्कत नहं थी।

कप्तान विमान उड़ाने गया, लेकिन फिर गेट पर लौट आया और यात्री को जहाज से उतारा और फिर उनके सीट की तलाशी ली। परिवहन विभाग ने कहा कि कप्तान ने डेल्टा के सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया था और यात्री को जहाज से उतारा जाना ‘भेदभावपूर्ण था।’

ये भी पढ़ें…ईरान ने पकड़ा ब्रिटिश जहाज, 18 भारतीय भी फंसे, विदेश मंत्रालय ने कही ये बड़ी बात