Top

रूस पर लगेगा प्रतिबंध! राष्ट्रपति पुतिन की बढ़ी मुश्किलें, 26 देश देंगे बड़ा झटका

रूस में विपक्षी दल के नेता एलेक्सी नवलनी की गिरफ्तारी को लेकर ईयू देशों की प्रतिक्रिया आई है।उन्होंने इसे गलत मानते हुए रूस पर नए प्रतिबंधों की मांग की।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 22 Feb 2021 2:03 PM GMT

रूस पर लगेगा प्रतिबंध! राष्ट्रपति पुतिन की बढ़ी मुश्किलें, 26 देश देंगे बड़ा झटका
X
पुतिन पर नहीं चलेगा कोई आपराधिक मुकदमा, इस बिल पर किया हस्ताक्षर
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ- रूस की मुश्किले बढ़ती नजर आ रही है। जानकारी के मुताबिक, यूरोपियन यूनियन देशों के विदेश मंत्रियों की बीच हुई बैठक में रूस पर प्रतिबंध लगाने का फैसला आ सकता है। 27 देशों का एक ब्लॉक एक रूसी नेता की गिरफ्तारी के विरोध में है। ऐसे में यूरोपियन यूनियन की होने वाली बैठक से पहले माना जा रहा है कि रूस के खिलाफ नए प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं।

यूरोपियन यूनियन देशों की बैठक से पहले रूस पर प्रतिबंध का प्रस्ताव

दरअसल, रूस में विपक्षी दल के नेता एलेक्सी नवलनी की गिरफ्तारी को लेकर 27 देशों की प्रतिक्रिया आई है।उन्होंने इसे गलत माना है और रूस के खिलाफ नए प्रतिबंधों की मांग की। इस बाबत जर्मनी ने राष्ट्रपति पुतिन और उनके सहयोगियों का विरोध जताते हुए यात्रा पर रोक लगाने की अपील की। जर्मनी के विदेश मंत्री हाइको मास का भी ब्यान जारी हुआ। जिसमे उन्होंने यूरोपियन यूनियन की विदेश मंत्रियों की होने वाली आगामी बैठक से पहले रूस पर प्रतिबंध लगाने की मांग की। उनके साथ कुछ अन्य देशों के विदेश मंत्रियों ने भी ये प्रस्ताव रखा है।

ये भी पढ़ेँ- सड़कों पर चलने लगा घर: मंजर देख सकते में आए लोग, आप भी देखें ये वीडियो

रूस में विपक्षी दल के नेता एलेक्सी नवलनी की गिरफ्तारी का विरोध

बताया जा रहा है कि विदेश मंत्रियों की बैठक में उन अधिकारियों के नाम पर भी कार्रवाई का विचार किया जा सकता है, जो नवलनी के मामलों में शामिल रहे हैं। मानवाधिकार हनन के मामलों को देखते हुए भी कार्रवाई की जा सकती है।

जर्मनी के विदेश मंत्री मास ने पुतिन के सहयोगियों की यात्रा पर रोक के साथ ही उनकी संपत्तियों पर प्रतिबंध लगाने की भी सलाह दी। ईयू के विदेश मंत्रियों की अमेरिका के विदेश मंत्री एंटोनी ब्लिंकन से भी वीडियो कॉल पर बात होगी।

रूस की यूरोपियन यूनियन से टकराव

यूरोपियन यूनियन के विदेशी नीति के प्रमुख जोसेफ बोरैल ने कहा, रूस इस मामले में ईयू से टकराव के रास्ते पर है। नवलनी के मामले में रूस ने पूर्व में सभी आग्रह को ठुकराया है। उसने नवलनी के मामले में यूरोपियन यूनियन की मानवाधिकार अदालत के फैसले को भी मानने से इनकार कर दिया।

ये भी पढ़ेँ- आसमान में फेंका पानी बन गया बर्फ, वीडियो देख हर किसी का खुला रह गया मुंह

बता दें कि रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन के धुर विरोधी नवलनी पांच माह जर्मनी में इलाज कराने के बाद रूस लौटे थे, जिन्हें तुरंत ही गिरफ्तार कर लिया गया था। इसी मसले को लेकर यूरोपियन यूनियन और रूस के बीच तनाव की स्थिति है।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story