पाकिस्तान तरक्की की ओर बढ़ेगा या हो जाएगा बर्बाद: आज FATF की बैठक में फैसला

पाकिस्तान भारी भरकम कर्ज के बोझ तले दबा हुआ है। देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है। नौबत यहां तक आ पहुंची है कि दुनिया के कई देशों ने पाकिस्तान को कर्ज देने से साफ़ मना कर दिया है।

इस्लामाबाद: पाकिस्तान भारी भरकम कर्ज के बोझ तले दबा हुआ है। देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है। नौबत यहां तक आ पहुंची है कि दुनिया के कई देशों ने पाकिस्तान को कर्ज देने से साफ़ मना कर दिया है।

इस बीच पाकिस्तान के लिए एक और बुरी खबर है। जो आने वाले दिनों में इमरान सरकार की मुश्किलें बढ़ा सकती हैं। मामला  फ्रांस की राजधानी पेरिस में आज होने वाली फाइनेंशियल एक्शन टास्क फ़ोर्स (एफएटीएफ) की बैठक से जुड़ा हुआ है।

ये भी पढ़ें…गिरफ़्तार पाकिस्तान के पूर्व पीएम: करोड़ों के घोटाले के हैं आरोपी

आतंकी फंडिंग को रोकने में पाकिस्तान फेल

ये बैठक 12 से 15 अक्टूबर के बीच पेरिस में हो रही है। इस बैठक में आज पाकिस्तान के भविष्य पर फैसला होगा। सूत्रों के मुताबिक एशिया पैसिफिक ग्रुप की रिपोर्ट में पाकिस्तान आतंकी फंडिंग को रोकने में पूरी तरह से फेल साबित हुआ है।

ऐसे में इस बैठक में उसके खिलाफ कार्रवाई होना लगभग तय माना जा रहा है। यहां ये जानना भी जरूरी है कि आंतकवाद को फंडिंग करने पर फाइनेंशियल एक्शन टास्क फ़ोर्स ने पाकिस्तान को पहले ही ग्रे लिस्ट में डाल रखा है।

जानकारी ऐसी भी मिल रही है कि पाकिस्तान टेरर फंडिंग के खिलाफ सुरक्षा उपायों के लिए 11 मापदंडों में से 10 को पूरा करने में पूरी तरह से फेल साबित हुआ है।

ये भी पढ़ें…खत्म होता पाक : तालिबान आतंकी की गिरफ्त में पाकिस्तान, बच्चें भी हो रहे शिकार

चीन कर सकता है बचाव

आज पेरिस में होने वाली बैठक में पाकिस्तान ग्रे लिस्ट में बना रहेगा या उसे काली सूची में डाला जाएगा?  इस पर फैसला होगा। ऐसे में माना जा रहा है कि अगर ऐसा हुआ तो पहले से ही ध्वस्त चुकी पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था और भी ज्यादा खराब हो जाएगी।

वहीं खबरें ऐसी भी आ रही हैं कि पेरिस में होने वाली इस बैठक में भारत अपना पक्ष और भी ज्यादा मजबूती के साथ रखने वाला है। चीन पाकिस्तान को बचाने की कोशिश करेगा लेकिन उसे अपने मंसूबों में कामयाब होने में मुश्किल होगी। इतना ही नहीं उसे भारत का विरोध करना महंगा भी पड़ सकता है।

ये भी पढ़ें…पाकिस्तान की बड़ी साजिश: भारत में भेजी 5 फिशिंग नाव, BSF ने की ये बड़ी कार्रवाई