फ्रांस में शोक की लहर: पूर्व मंत्री पैट्रिक का कोरोना वायरस से निधन

कोरोना वायरस  के सामने आज लगभग पूरी दुनिया ने अपने घुटने टेक दिए हैं। जहां हले ये वायरस आम लोगों को ही अपनी चपेट में ले रहा था वहीं अब बड़े-बड़े राजनेता भी कोरोना वायरस से संक्रमित हो रहे हैं। खबर है कि फ्रांस के पूर्व मंत्री पैट्रिक डेविडजियन का रविवार को कोरोना वायरस के संक्रमण से निधन हो गया। उनकी उम्र 75 साल थी।

Published by suman Published: March 30, 2020 | 7:31 am

नई दिल्ली:  कोरोना वायरस  के सामने आज लगभग पूरी दुनिया ने अपने घुटने टेक दिए हैं। जहां पहले ये वायरस आम लोगों को ही अपनी चपेट में ले रहा था वहीं अब बड़े-बड़े राजनेता भी कोरोना वायरस से संक्रमित हो रहे हैं। खबर है कि फ्रांस के पूर्व मंत्री पैट्रिक डेविडजियन का रविवार को कोरोना वायरस के संक्रमण से निधन हो गया। उनकी उम्र 75 साल थी।

अब तक कोरोना वायरस से मरने वालों में पैट्रिक यूरोप के सबसे वरिष्ठ नेता बताए जा रहे हैं। स्थाडॉक्टरों का कहना है कि इससे पहले उनकी मेडिकल कंडीशन में भी कोई दिक्कत नहीं थी। लेकिन हालत खराब होता देख उन्हें कृत्रिम कोमा में रखने का फैसला किया गया था।

यह पढ़ें…अधिकारियों ने PRV वाहनों से जरूरतमंदों के लिए राशन व भोजन का पैकेट किया रवाना

फ्रांस के पूर्व मंत्री पैट्रिक डेविडजियन का रविवार को कोरोना वायरस के संक्रमण से निधन हो गया। वो 75 साल के थे। कोरोना वायरस से मरने वालों में पैट्रिक यूरोप के सबसे वरिष्ठ नेता हैं। उन्होंने गुरुवार को ट्वीट कर कहा था, ‘मैं महामारी से प्रभावित हूं. थका हूं, लेकिन स्थिर हूं।

Hauts-de-Seine काउंसिल के अध्यक्ष रहे पैट्रिक बुधवार से अस्पताल में थे। इससे पहले उनकी मेडिकल कंडीशन में कोई दिक्कत नहीं थी। डॉक्टरों ने उन्हें कृत्रिम कोमा में रखने का फैसला किया, लेकिन वह जीवित नहीं रह सके। परिजनों के मुताबिक, उनकी तबियत शनिवार को बिगड़ी थी।

बता दें कि कोरोना वायरस ने दुनियाभर के देशों को हिलाकर रख दिया है।  इससे पैदा हुए संकट से निपटने की कोशिशें जारी हैं। इस कड़ी में फ्रांस ने कोरोना से लड़ने के लिए लॉकडाउन की समय अवधि 2 सप्ताह के लिए बढ़ा दी है, ताकि वहां की स्वास्थ्य प्रणाली पर ज्यादा बोझ ना पड़े।

यह पढ़ें…लॉकडाउन: मजदूरों के पलायन पर सरकार सख्त, इन 4 अधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई

फ्रांस के पूर्वी भाग में सबसे ज्यादा कोरोना का कहर है। अब ये महामारी उत्तरी Hautes-de-France और अन्य क्षेत्रों में फैल रही है। फ्रांस में अब तक 2300 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।