Top

यहां लौटा हंता वायरस: अभी कोरोना से मुक्ति मिली नहीं, खतरा फिर बढ़ा

कोरोना वायरस ने तो वैसे ही पुरानी में खलबली मचा रखी है। अब चीन एक और वायरस को ले आए हैं। वहीं जो कुछ दिन पहले सुना था आपने हंटा वायरस। हां यही वायरस जिससे चीन में एक शख्स की मौत हो गई थी।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 3 April 2020 10:50 AM GMT

यहां लौटा हंता वायरस: अभी कोरोना से मुक्ति मिली नहीं, खतरा फिर बढ़ा
X
यहां लौटा हंतावायरस: अभी कोरोना से मुक्ति मिली नहीं, खतरा फिर बढ़ा
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : कोरोना वायरस ने तो वैसे ही पुरानी में खलबली मचा रखी है। अब चीन एक और वायरस को ले आए हैं। वहीं जो कुछ दिन पहले सुना था आपने हंता वायरस। हां यही वायरस जिससे चीन में एक शख्स की मौत हो गई थी। हालांकि उस समय तो चीन ने तसल्ली देे दी थी, कि शहरों घबराने की जरुरत नहीं है। लेकिन अब यही चीन बोल रहा है कि चीन पर हंतावायरस का हमला फिर हुआ है। इस रोकने के लिए सरकार बहुत कोशिशे कर रही है।

ये भी पढ़ें... मुंबई में खतरा बढ़ा: अब डॉक्टर भी कोरोना पॉजिटिव, बढ़ी संक्रमितों की संख्या

हंतावायरस हमला

बता दें कि चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स को दिए गए इंटरव्यू में दक्षिणी चीन के गुआंगडोंग प्रांत के फोशान शहर में प्रमुख डॉक्टर बाई होंगलियान ने कहा कि हंतावायरस आया हुआ है। इसका दोबारा हमला हुआ है देश पर लेकिन अभी तक इसने कोई नुकसान नहीं किया है।



इस पर डॉ. बाई होंगलियान ने बताया कि कुछ दिन पहले यूनान प्रांत के एक मजदूर की हंतावायरस से मौत हो गई थी। जिसकी वजह से चीन के लोग घबरा गए थे। लेकिन उन्हें घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि इसका असर ज्यादा नहीं है।

आगे इन्होंने बताया कि हंतावायरस की शुरुआत एक बैक्टीरिया की वजह से होती है। जो आपके सांस लेने की पूरी प्रणाली को खराब करता है। इसके बाद हंतावायरस हमला करता है। ये दोनों मिलकर पूरे रेस्पिरेटरी सिस्टम को बर्बाद कर देते हैं। इंसान मर जाता है।

ये भी पढ़ें… CM योगी का सख्त आदेश, तो मान लें बात और ना करें ऐसी गलती

हंतावायरस की दवा

इस बैक्टीरिया और हंतावायरस का माध्यम चूहा ही है। जब ये दोनों मिलकर किसी इंसान पर हमला करते हैं तो उसे बचाना मुश्किल हो जाता है। लेकिन डॉ. बाई होंगलियान ने कहा है कि फिलहाल डरने की जरूरत नहीं है। क्योंकि अभी तक ऐसा कोई मामला सामने नहीं आया है।

चीनी सरकार कोरोना वायरस फैलने के बाद हुई अंतरराष्ट्रीय स्तर की बेइज्जती के बाद अब ये नहीं चाहती कि हंतावायरस को लेकर कोई डर पैदा हो। इसलिए चूहों को मारने की सीक्रेट मुहिम चला दी है। चीन की सरकार ने हंतावायरस को रोकने के लिए इससे प्रभावित इलाकों में चूहों और ऐसे ही अन्य जानवरों को मारने का मुहिम चला रखी है।

चीनी सरकार का दावा है कि हंतावायरस की दवा मौजूद है। किसी को घबराने की जरूरत नहीं है। चीन के महामारी विशेषज्ञ वू डेलियान ने कहा है कि हंतावायरस हवा के जरिए इंसानों में फैल सकता है। डेलियान पहले चीनी है जिन्हें कैंब्रिज यूनिवर्सिटी ने डॉक्टरेट की उपाधि दी थी।

वू डेलियान ने कहा कि किसी भी तरह की महामारी जो रेस्पिरेटरी सिस्टम को बिगाड़ सकती है उसे डबल-लेयर गॉज मास्क पहनकर बचाया जा सकता है। अगर किसी जानवर के जरिए इंसानों में रेस्पिरेटरी डिजीज फैलता है तो उसे न्यूमोनिक प्लेग कहते हैं। लेकिन चीन को अब हंटा की भी चिंता सता रही है।

ये भी पढ़ें…चीन ने अपने मित्र देश को भी दिया धोखा, बेच दिए कोरोना से लड़ने वाले नकली सामान

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Desk Editor

Next Story