इमरान बोले, पाकिस्तान ने तैयार किए आतंकी, अमेरिका पर लगाया ये बड़ा आरोप

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कबूल करते हुए कहा है कि 1980 के दशक में हमने मुजाहिदों को सोवियत के खिलाफ अफगानिस्तान में लड़ने की ट्रेनिंग दी। इनकी फंडिग अमेरिका की खुफिया एजेंसी CIA ने की।

नई दिल्ली: आतंकवाद पर पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कबूल किया है कि पाकिस्तान ने आतंकवादियों को तैयार किया है। इसके अलावा इमरान ने अमेरिका पर भी निशाना साधा है।

इमरान ने कहा कि पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में अमेरिका का साथ देने की भारी कीमत चुकानी पड़ी है। अब अमेरिका अफगानिस्तान में अपनी नाकामी का ठीकरा पाकिस्तान के सिर फोड़ रहा है जो सही नहीं है।

यह भी पढ़ें…भोपाल में गणपति विसर्जन के दौरान पलटी नाव,11 लोगों की मौत, चार लापता

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कबूल करते हुए कहा है कि 1980 के दशक में हमने मुजाहिदों को सोवियत के खिलाफ अफगानिस्तान में लड़ने की ट्रेनिंग दी। इनकी फंडिग अमेरिका की खुफिया एजेंसी CIA ने की।

आगे इमरान ने कहा कि एक दशक बाद अमेरिकी अफगानिस्तान आते हैं इसलिए इसे जिहाद नहीं आतंकवाद कहने को कहा जाता है। यह एक बड़ा विरोधाभास है, पाकिस्तान को न्यूट्रल रहना चाहिए था, इसमें शामिल होने की वजह से ये ग्रुप्स हमारे खिलाफ हो गए।

यह भी पढ़ें…20 साल बाद आज दिखेगा फुल हार्वेस्‍ट मून, जानिए इससे क्यों डरते हैं लोग?

उन्होंने कहा कि हमने 70 हजार लोग खोए, अर्थव्यवस्था को 100 बिलियन डॉलर का नुकसान हुआ। और अफगानिस्तान में असपफलता के लिए अमेरिका की जगह हम जिम्मेदार ठहराए जाते हैं, यह सही नहीं है।

यह भी पढ़ें…भारतीय टीम में बड़ा बदलाव! इस मैच में दोनो टीमों के इन दिग्गजों में होगा मुकाबला

बता दें कि फिछले दिनों अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अफगान तालिबान वार्ता को रद्द कर दिया था जो पाकिस्तान की मदद से आयोजित की गई थी। ट्रंप ने तालिबान के साथ शांति वार्ता रद्द करने की वजह काबुल में हुए तालिबानी हमले को वजह बताया था। इस हमले में एक अमेरिकी सैनिक समेत 12 लोगों की मौत हो गई थी।