×

धोखे से हमला करने वाले चीन ने अपनाया नया पैंतरा, कही ये बड़ी बात

लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर चीनी सैनिकों ने धोखे से भारतीय जवानों पर हमला कर दिया। इस हमले में 20 भारतीय जवान शहीद हुए हैं।

Ashiki
Updated on: 17 Jun 2020 4:11 AM GMT
धोखे से हमला करने वाले चीन ने अपनाया नया पैंतरा, कही ये बड़ी बात
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर चीनी सैनिकों ने धोखे से भारतीय जवानों पर हमला कर दिया। इस हमले में 20 भारतीय जवान शहीद हुए हैं। वहीं चीन को भी करीब इतना ही नुकसान हुआ है। चीन के 43 जवान हताहत हुए हैं। हताहतों में मरने वाले और गंभीर रूप से घायलों की संख्‍या शामिल हैं। इसके बाद अब चीन बातचीत से हल निकालने की कोशिश कर रहा है।

ये भी पढ़ें: इकलौते बेटे की शहादत पर कर्नल की मां को गर्व, बेटी का चेहरा भी नहीं देख पाए शहीद कुंदन

बातचीत से मामले का हल निकालने की अपील

दरअसल चीन के एक अखबार में छपी खबर के अनुसार एक चीनी सैन्य प्रवक्ता ने कहा कि भारत को अपने सैनिकों को सख्ती से रोकना चाहिए और बातचीत के रास्ते पर लौटना चाहिए।

यह बयान पीएलए डेली के आधिकारिक अकाउंट पर जारी किया गया। इसमें कहा गया कि भारतीय सैनिकों ने अपने वादों का उल्लंघन किया था और एक बार फिर से अवैध गतिविधियों के लिए एलएसी को पार किया। जानबूझकर उकसाया और चीनी सेनाओं पर हमला किया। दोनों पक्षों के बीच हिंसक झड़प हुई, जिसमें कई लोग हताहत हुए हैं।

ये भी पढ़ें: अखिलेश का बड़ा एलान: सपा सरकार आई तो महिलाओं को मिलेगा ये फायदा

आगे कहा गया कि हम मांग करते हैं कि भारत अपने सैनिकों को सख्ती से रोकें और मतभेदों को सुलझाने के लिए बातचीत और वार्ता के सही ट्रैक पर लौटने के लिए चीन के साथ मिलकर काम करें।

भारत पर लगाए कई आरोप

बता दें कि सोमवार रात दोनों देशों में हुई हिंसक झड़प पर पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के वेस्टर्न थिएटर कमांड के प्रवक्ता झांग शुइली ने भारत पर ही आरोप लगाते हुए कहा कि भारतीय जवानों ने एलएसी पर अवैध गतिविधियां की और जानबूझकर भड़काऊ हमलों की शुरुआत की थी।

ये भी पढ़ें: इस जिले में कोरोना का कहर: वायरस से 5 की मौत, ये दुकानें 21 दिन के लिए रहेंगी बंद

डीजल-पेट्रोल की कीमतों में मनमानी बढ़ोतरी करना भारत सरकार की आदत: अखिलेश

Ashiki

Ashiki

Next Story