×

चीन किसी भी वक्त भारत पर कर सकता है बड़ा हमला, जिनपिंग ने जारी किया आदेश

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की रिपोर्ट को अगर ध्यान से पढ़ें तो इसमें साफ-साफ लिखा है कि शी जिनपिंग ने मरीन सैनिकों से कहा कि उन्हें तेज गति से जवाब देने, सभी मौसम और इलाके में जंग लड़ने के लिए तैयार रहना है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 14 Oct 2020 5:16 AM GMT

चीन किसी भी वक्त भारत पर कर सकता है बड़ा हमला, जिनपिंग ने जारी किया आदेश
X
भारतीय चिकित्सा सुविधाएं एलएसी के साथ आ गई हैं, ताकि उच्च दृष्टिकोण की बीमारी के शिकार लोगों को तत्काल उपचार मिल सके।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

बीजिंग: चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग सीमा विवाद के मसले को भारत के साथ टेबल पर बैठकर नहीं बल्कि जंग के मैदान में उतरकर सुलझाना चाहते हैं।

उन्हें लगता है कि ऐसा करके वह भारत को डरा सकते हैं। इसलिए उन्होंने अपनी सेना को अब युद्ध के लिए तैयार हो जाने को लिए बोल दिया है। उन्होंने सेना से कहा है कि वह हर समय चौकन्ना रहें। किसी भी पल युद्ध का आगाज हो सकता है।

इससे पहले उन्होंने गुआंगडोंग इलाके का दौरा भी किया। वह सेना के एक अड्डे पर भी गये थे। सैन्य अड्डे पर शी जिनपिंग ने मरीन सैनिकों को युद्ध के लिए तैयार रहने और हमेशा सतर्क रहने के लिए कहा। उन्होंने शांतोउ इलाके का भी दौरा किया जो विदेशों में रहने वाले कई चीनी लोगों का गढ़ माना जाता है।

China And Xi Jinping चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की फोटो(सोशल मीडिया)

ये भी देखें: मोदी सरकार का एक्शन प्लान, अर्थव्यवस्था को बढ़ाने के लिए किए बड़े ऐलान

चीनी सैनिकों को राष्ट्रपति जिंगपिंग ने किया संबोधित

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की रिपोर्ट को अगर ध्यान से पढ़ें तो इसमें साफ-साफ लिखा है कि शी जिनपिंग ने मरीन सैनिकों से कहा कि उन्हें तेज गति से जवाब देने, सभी मौसम और इलाके में जंग लड़ने के लिए तैयार रहना है।

रिपोर्ट में ये भी लिखा है कि चीन के राष्ट्रपति ने अपने सैनिकों से कहा है कि आपको अपनी पूरी एनर्जी और दिमाग अब केवल की तैयारी में लगाना है। हर पल आपको अलर्ट रहना है।

चीनी राष्ट्रपति ने अपने सैनिकों से ये भी कहा, 'मरीन सैनिकों को अभी बहुत से अलग –अलग मिशन पूरे करने हैं। इसलिए आपकी मांग भी ज्यादा होगी।

ऐसे में आपको चाहिए कि आप लोगों अपना सारा ध्यान जंग की की तैयारियों की तरफ ही लगाये। अपने आप को जितना ज्यादा से ज्यादा हो सके युद्ध के लिए तैयार करके रखें। क्योंकि आपके कंधों पर देश के इलाके, संप्रभुता, समुद्री हितों और विदेशों में चीनी हितों की रक्षा की बड़ी जिम्मेेदारी है।

इससे ये संकेत मिलता है कि चीन की मंशा केवल भारत ही नहीं बल्कि अमेरिका और ताइवान से भी जंग लड़ने की है।

इसलिए वह अभी से अपनी सैन्य तैयारियों में जुट गया है।

चीन ने कहा है कि वह ताइवान को अपने नियंत्रण में लाना चाहता है और इसके लिए जरूरी हुआ तो वह सैन्य ताकतों का भी इस्तेमाल कर सकता है।

China Army चीन की सेना की फोटो(सोशल मीडिया)

ये भी देखें: पाकिस्तान में दहशत, एयरफोर्स चीफ बोले- राफेल से जल्द हमला कर सकता है भारत

केवल भारत ही नहीं बल्कि अमेरिका और ताइवान को भी दुश्मन मानता है चीन

इससे पहले मंगलवार को चीन के विदेश मंत्रालय की तरफ से बयान जारी करके कहा गया था कि ऐसी जानकारी मिल रही हैं कि अमेरिकी कांग्रेस ताइवान को हाई टेक्नोलोजी वाले वेपन्स देने के तीन तरह के समझौतों की समीक्षा कर रही है।

इस पर नाराजगी जताते हुए कहा कि चीन को ये मंजूर नहीं और अगर जरूरत पड़ी तो इसका करारा जवाब भी दिया जाएगा। इतना ही नहीं चीन की तरह से प्रवक्ता झाओ लीजिन ने तो अमेरिका को धमकी तक दे डाली।

कहा कि अमेरिका को फौरन अपने ताइवान को हथियार बेचने के प्लान को कैंसिल कर देना चाहिए साथ ही ताइवान के साथ साथ सैन्य संबंधों को भी खत्म कर देना चाहिए।

ये भी देखें: पावर ग्रिड किसे कहते हैं, ये कब फेल होता है, इससे कैसे बचा जा सकता है, यहां जानें

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें – Newstrack App

Newstrack

Newstrack

Next Story