×

जल्द मिलेंगे पॉजिटिव रिजल्ट: US में इंसानों पर शुरु किया वैक्सीन का परीक्षण

चीन से फैला कोरोना वायरस पूरी दुनिया में अपने पैर पसार चुका है। वहीं दुनिया के तमाम देश के वैज्ञानिका कोरोना वायरस की वैक्सीन तैयार करने में जुटे हुए हैं।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 7 April 2020 6:30 AM GMT

जल्द मिलेंगे पॉजिटिव रिजल्ट: US में इंसानों पर शुरु किया वैक्सीन का परीक्षण
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

वॉशिंगटन: चीन से फैला कोरोना वायरस पूरी दुनिया में अपने पैर पसार चुका है। वहीं दुनिया के तमाम देश के वैज्ञानिका कोरोना वायरस की वैक्सीन तैयार करने में जुटे हुए हैं। इसी क्रम में अमेरिका की एक कंपनी ने मार्च के मध्य से ही कोरोना की वैक्सीन तैयार करना शुरु कर दिया था। इसके अलावा अब एक दूसरी पेंसिल्वेनयिा बायोटेक कंपनी ने भी कोरोना की वैक्सीन का परीक्षण शुरु कर दिया है। ये वैक्सीन इनोवियो फार्मास्यूटिकल्स की ओर से तैयार की गई है, जिसे यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) की ओर से मंजूरी दे दी गई है।

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन: परिवार के साथ समुद्र किनारे घूमने गए थे मंत्री, PM ने लिया कड़ा एक्शन

सोमवार से इंसानों पर शुरु किया गया वैक्सीन का परीक्षण

शोधकर्ताओं के मुताबिक, सोमवार को वैक्सीन (INO-4800) का परीक्षण इंसानों पर शुरु कर दिया गया है। कल वैक्सीन की पहली खुराक इंसान को दी गई। इस वैक्सीन को तैयार करने के लिए बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन और एपिडेमिक प्रिपेडेन्स इनोवेशन ने फंड दिया है।

ये कंपनी मार्च से ही शुरु कर चुकी है परीक्षण

इनोवियो फार्मास्यूटिकल्स की ओर से तैयार की गई इस वैक्सीन का परीक्षण कल से इंसानों पर शुरु हो चुका है। बता दें कि अमेरिका में ये ऐसी दूसरी कंपनी है, जिसे कोरोना के लिए तैयार की गई वैक्सीन को इंसानों पर परीक्षण करने की अनुमति मिली है। इससे पहले मैसाचुसेट्स बायोटेक मॉडर्न ने मध्य मार्च से ही कोरोना वैक्सीन का परीक्षण इंसानों में शुरू कर दिया था।

यह भी पढ़ें: जमातियों का कौन है कर्ता-धर्ता, कहां से होती है इनको फंडिंग, पढ़ें पूरी खबर

जल्द ही वैक्सीन के दिखेंगे पॉजिटिव रिजल्ट

बता दें कि अमेरिकी वैज्ञानिक डॉ. एंथनी फाउची ने पहले ही कहा है कि कोरोना के लिए तैयार किया जाने वाला वैक्सीन कितना सुरक्षित और प्रभावी है, इसे जानने में कम से कम एक साल तक का वक्त लग जाएगा। इनोवियो फार्मास्यूटिकल्स ने इंसानों पर वैक्सीन का परीक्षण करने के लिए 40 स्वस्थ लोगों को चुना है। इन सभी लोगों को चार हफ्ते तक कोरोना वैक्सीन की दो खुराकें दी जाएंगी। कंपनी ने कहा है कि जल्द ही इसके पॉजिटिव रिजल्ट देखने को मिलेंगे।

यह भी पढ़ें: कोरोना से मरने वालों में ये बात है सामान्य, स्वास्थ्य मंत्रालय ने जारी किए आंकड़े

Shreya

Shreya

Next Story