अभी-अभी आतंकी हमला: 28 लोगों के उड़े चीथड़े और 73 गंभीर, दहला पूरा Baghdad

राजधानी बगदाद(Baghdad) में आत्मघाती हमला हुआ है। इस हमले में राजधानी के 28 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 73 लोग गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। ऐसे में इराक की सेना का कहना है कि ये आंकड़ा बढ़ सकता है।

Published by Vidushi Mishra Published: January 21, 2021 | 5:49 pm
baghdad

फोटो-सोशल मीडिया

बगदाद: इराक की राजधानी बगदाद(Baghdad) में आत्मघाती हमला हुआ है। इस हमले में राजधानी के 28 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 73 लोग गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। ऐसे में इराक की सेना का कहना है कि ये आंकड़ा बढ़ सकता है। जबकि इराक की सेना ने कहा कि कि सेंट्रल बगदाद के तयारन चौक पर भीड़ भरे बाजार के अंदर दो दो आत्मघाती हमले हुए, जिसमें कम से कम 28 लोगों की मौत हो गई। वहीं, 73 लोग घायल हो गए हैं। वहीं कई गंभीर रूप से घायलों की हालत नाजुक बनी हुई है।

ये भी पढ़ें…पुलिस पर ताबड़तोड़ पत्थर: ईंटों से किया गया हमला, फिरोजाबाद में गंभीर स्थिति

लोगों की भीड़ उमड़ी

राजधानी में हुए इस हमले को इराक में जनवरी 2018 के बाद का सबसे बड़ा आतंकी हमला बताया जा रहा है। बता दें, ये हमला उस समय हुआ, जब कोरोना महामारी के बाद खुली बाजार में लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी थी।

ऐसे में तभी पहले आत्मघाती हमलावर ने खुद के बीमार होने का नाटक किया और जैसे ही लोग उसके आस पास इकट्ठा हुए, उसने धमाके में खुद को उड़ा दिया। इसके बाद दूसरा धमाका उस समय हुआ, जब पहले धमाके के बाद स्थानीय लोग राहत और बचाव कार्य में जुट गए।

खूनी साजिश रचते हुए दूसरे हमलावर ने खुद को उड़ा लिया। इस आत्मघाती में कम से कम 28 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है, जबकि घायल हुए 73 लोगों की हालत बहुत खराब है।

suicide bomb attack
फोटो-सोशल मीडिया

ये भी पढ़ें…पुलिस पर खतरनाक हमला: दौड़ा-दौड़ाकर लाठी डंडों से पीटा, मेरठ में गौ तस्करी

आत्मघाती हमले बहुत बढ़ गए

बता दें, राजधानी बगदाद में साल 2003 से पहले आम तौर पर शांति हुआ करती थी। लेकिन साल 2003 में अमेरिकी हमले के बाद वहां आत्मघाती हमले बहुत बढ़ गए थे। इसके बाद 2017 से कुछ समय पहले तक इस्लामिक स्टेट की आवक से भी बगदाद में लगातार धमाके होते रहे।

लेकिन इस्लामिक स्टेट(IS) की हार के बाद से बगदाद सामान्यत् शांत रहता था। जिसकी वजह से बगदाद में काफी सारे चेक पोस्ट हटा दिए गए थे और विदेशी सैनिक भी सड़कों पर नहीं दिख रहे थे। बता दें, इराक में जून 2021 में चुनाव भी होने हैं।

ये भी पढ़ें…मरे पाकिस्तान सैनिक: हुआ ऐसा भयानक हमला, हर तरफ नजर आ रही लाशें

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App