Top

हिन्दुओं मुझे माफ कर दोः अनजाने में हो गई गलती, कर दिया था ट्वीट

लेकिम इसके भारतीयों का पारा सातवें आसमान पर चढ़ गया। और येर को इसके लिए काफी कुछ सुनना पड़ा। क्योंकि ये भारतीयों की भावनाओं को आहत करना था।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 28 July 2020 12:16 PM GMT

हिन्दुओं मुझे माफ कर दोः अनजाने में हो गई गलती, कर दिया था ट्वीट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

आखिरकार भारत और भारतीयों की भावनाओं के आगे इज़राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के बेटे को झुकना ही पड़ा और माफी मांगनी पड़ी। अब हम आपको बता दें कि ऐसा क्यों करना पड़ा। दरअसल इज़राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के बड़े बेटे येर ने सोशल मीडिया पर देवी दुर्गा की एक तस्वीर साझा की थी। येर ने इस फोटो में देवी दुर्गा के चेहरे पर लिआत बेन अरी का चेहरा लगाया था। बता दें कि प्रधानमंत्री नेतन्याहू के खिलाफ के भ्रष्टाचार मामले में लिआत बेन अरी अभियोजक हैं। उनके कई हाथों को अभद्र इशारे करते हुए दिखाया गया था।

येर ने मांगी माफी

लेकिम इसके भारतीयों का पारा सातवें आसमान पर चढ़ गया। और येर को इसके लिए काफी कुछ सुनना पड़ा। क्योंकि ये भारतीयों की भावनाओं को आहत करना था। जिसके बाद येर ने अपनी सफाई देते हुए ट्वीट किया कि मैंने एक व्यंगात्मक पेज से ‘मीम’ साझा किया था। मुझे नहीं पता था कि इस तस्वीर का हिंदू आस्था से कोई लेना-देना है।

ये भी पढ़ें- फ्लिपकार्ट महा सेल: जल्दी खरीदें ये स्मार्टवॉच, कीमत जान चौंक जाएंगे आप

मुझे जैसे ही मेरे भारतीय दोस्तों से इसका पता चला तो उसके बाद मैंने ट्वीट हटा दिया। मैं इसके लिए माफी मांगता हूं। येर के माफी मांगने के ‘साहसिक कदम’ की कई लोग सराहना कर रहे हैं। तो वहीं कई लोगों ने उनके ‘गैर जिम्मेदाराना’ व्यवहार की आलोचना की है। येर सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहते हैं और अक्सर अपने पिता की नीतियों का बचाव करते हुए पाए जाते हैं।

प्रधानमंत्री नेतन्याहू पर है भ्रष्टाचार का आरोप

इस साल के मई में उन पर रिश्वत, धोखाधड़ी जैसे कई आरोपों के चलते मुकदमा हुआ। लेकिन वे लगातार आरोपों से इनकार करते रहे हैं। बेंजामिन नेतन्याहू के खिलाफ लगे भ्रष्टाचार के आरोपों के कारण जनता का गुस्सा भड़क उठा है। जनता अक्सर प्रधानमंत्री के खिलाफ प्रदर्शन कर रही है। देश में बेरोजारी में लगातार इजाफा हो रहा है।

ये भी पढ़ें- पाक बना चीन का रोल मॉडलः दूसरे देशों को दे रहा उसके जैसा बनने का ऑफर

इसके चलते भी जनता का आक्रोश बढ़ रहा है। वर्तमान में इजरायल में बेरोजगारी दर 21% हो गई है। यरुशलम की अदालत में इज़राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के खिलाफ धोखाधड़ी, विश्वासघात और घूस लेने के आरोप का मामला चल रहा है। नेतन्याहू का इन आरोपों पर कहना कि ये सारे आरोप बेबुनियाद हैं।

Newstrack

Newstrack

Next Story