मिलेंगे करोड़ों: जरा चेक करें लें, इन फॉलोवर्स में आपका नाम है या नहीं

जब किस्मत आपके साथ होती है तो घर बैठे-बैठे लॉटरी लगना कोई बड़ी बात नहीं होती है। ऐसे ही कुछ हुआ है, ट्वीटर यूजर्स के साथ।

मिलेंगे करोड़ों: जरा चेक करें लें, इन फॉलोवर्स में आपका नाम है या नहीं

मिलेंगे करोड़ों: जरा चेक करें लें, इन फॉलोवर्स में आपका नाम है या नहीं

टोक्यो: जब किस्मत आपके साथ होती है तो घर बैठे-बैठे लॉटरी लगना कोई बड़ी बात नहीं होती है। ऐसे ही कुछ हुआ है, ट्वीटर यूजर्स के साथ। जी हां, जापान के अरबपति युसाकु मीजावा एक हजार लोगों को 10 लाख येन यानी करीब साढ़े छह लाख रुपये देने वाले हैं। युसाकु मीजावा उन्हें ये पैसे देने वाले हैं, जो उन्हें ट्विटर पर फॉलो करते हैं। उन्होंने रविवार को कहा कि, उनके जिन फॉलोवर्स ने उनके 1 जनवरी को किए गए एक ट्वीट को रिट्वीट किया था। उनमें से वो एक हजार लोगों को 10 लाख येन देंगे। उन्होंने आगे कहा कि, ऐसा एक ‘सीरियस सोशल एक्सपेरिमेंट’ के तहत किया जा रहा है। इसका मकसद ये पता लगाना है कि क्या पैसे से लोगों की खुशी बढ़ती है।

बेसिक इनकम आइडिया है ये प्रयोग- मीजावा

मीजावा इसे बेसिक इनकम आइडिया से जोड़कर देखते हैं। हालांकि जापानी वरिष्ठ अर्थशास्त्री तोषीहीरो नागाहामा का मानना है कि, बेसिक इनकम का मतलब नियमित रुप से मिलने वाली न्यूनतम राशि है, जो सुरक्षा की भावना दे, लेकिन जो मीजावा दे रहे हैं वो इससे बिल्कुल अलग है। मीजावा का कहना है कि वह पैसे पाने वालों का सर्वे करेंगे और इसके जरिए अपने इस एक्सपेरिमेंट के रिजल्ट को ट्रैक करेंगे।

यह भी पढ़ें: फटी हुई एड़ियों को कोमल और सुन्दर बनाने के लिए अपनाए घरेलू उपाए़

इससे पहले भी फॉलोवर्स को पैसे देने की कर चुके हैं घोषणा

बता दें कि ये पहली बार नहीं है जब मीजावा ऐसा कर रहे हों, इससे पहले भी पिछले साल 2019 में उन्होंने अपने 100 फॉलोवर्स को 10 करोड़ येन देने की घोषणा की थी। उनका यह ऑफर उस वक्त आया है, जब मीजावा ने हाल ही में अपना ऑनलाइन फैशन बिजनेस Zozo Inc, सॉफ्ट बैंक को 90 करोड़ डॉलर में बेच दिया।

65 लाख से ज्यादा हैं फॉलोवर्स

मीजावा को इस वक्त करीब 65 लाख से ज्यादा लोग फॉलो करते हैं। उनकी निजी संपत्ति दो अरब डॉलर के आसपास है। युसाकु मीजावा को स्पोर्ट्स कार, पेंटिग्स का काफी शौक है। वहीं निजी तौर पर एलन मस्क के स्पेस-एक्स विमान में बैठकर चंद्रमा का चक्कर लगाने  मीजावा दुनिया के पहले व्यक्ति होंगे।

मीजावा ने कहा कि पैसे और पैसे बांटने के लिए खाली समय है। मेरा मानना है कि बेसिक इनकम का कॉन्सेप्ट लोगों को बिना किसी काम के बदले में एक निश्चित रकम देने की होनी चाहिए। इसलिए ंमैं अपने इस एक्सपेरिमेंट को बेसिक इनकम आइडिया से जोड़कर देखता हूं।

यह भी पढ़ें: फिर आजम की बढ़ी मुसीबतें कोर्ट में पेश न होने से गैर जमानती वारंट जारी