चांद पर कचरा! अंतरिक्ष यात्री करते हैं ऐसा काम

इस मामले पर वैज्ञानिकों का कहना है कि यह बिल्कुल भी अच्छी बात नहीं है। वैज्ञानिकों का ये भी कहना है कि अंतरिक्ष यात्रियों को मिशन पर भेजने से मिशन का खर्चा बढ़ जाता है। ऐसे में लगातार यही प्रयास किया जा रहा है कि अगर कुछ उपकरण को पीछे छोड़ दिया जाए तो इससे अंतरिक्ष यात्रियों को वापस लाना सस्ता तो होता है बल्कि आसान भी हो जाता है।

चांद पर कचरा! अंतरिक्ष यात्री करते हैं ऐसा काम

चांद पर कचरा! अंतरिक्ष यात्री करते हैं ऐसा काम

नई दिल्ली: कई मिशन ऐसे हैं, जो अभी भी चांद पर पहुंचने के लिए किए जा रहे हैं। दरअसल, विज्ञान लगातार इस खोज में लगा हुआ है कि क्या चांद पर जीवन संभव है? हालांकि, इस सवाल का जवाब ढूंढने के चक्कर हम चांद पर कचरा फैला रहे हैं। अगर ऐसा ही रहा तो हम एक दिन धरती खराब करने के साथ-साथ अंतरिक्ष में भी कचरा फैलाकर उसे बर्बाद कर देंगे।

यह भी पढ़ें:  मिल गया चंद्रयान-2! अभी-अभी ISRO चीफ का बड़ा बयान

दरअसल, नासा की एक रिपोर्ट सामने आई है। इस रिपोर्ट के अनुसार, चांद पर काफी किलो कचरा जमा हो गया है। ये रिपोर्ट साल 2018 में नासा ने जारी की थी। इस रिपोर्ट के अनुसार, चांद की सतह पर मनुष्य-निर्मित 400,000 पाउंड (181436 किलो) से अधिक कूड़ा जमा हो गया है। अब इस कचरे की मात्रा और अधिक हो सकती है।

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार के 100 दिन के कार्यकाल पर प्रियंका ने कसा तंज, कही ये बड़ी बात

वहीं, इस मामले पर वैज्ञानिकों का कहना है कि यह बिल्कुल भी अच्छी बात नहीं है। वैज्ञानिकों का ये भी कहना है कि अंतरिक्ष यात्रियों को मिशन पर भेजने से मिशन का खर्चा बढ़ जाता है। ऐसे में लगातार यही प्रयास किया जा रहा है कि अगर कुछ उपकरण को पीछे छोड़ दिया जाए तो इससे अंतरिक्ष यात्रियों को वापस लाना सस्ता तो होता है बल्कि आसान भी हो जाता है। ऐसे में यही उपकरण अब अंतरिक्ष और चांद पर कूड़ा बन गए हैं।

यह भी पढ़ें:  हरियाणा के रोहतक में पीएम मोदी ने की चुनावी रैली