×

इस महिला ने ट्रम्प-मोदी को छोड़ा पीछे, अपने देश को बनाया कोरोना मुक्त

न्यूजीलैंड में 17 दिनों में एक भी कोरोनावायरस के केस सामने नहीं आने के बाद इसे कोरोना मुक्त घोषित कर दिया गया। बता दें कि न्यूजीलैंड पहला ऐसा देश है जो कोरोना मुक्त हुआ है।

Shivani Awasthi
Updated on: 9 Jun 2020 4:03 AM GMT
इस महिला ने ट्रम्प-मोदी को छोड़ा पीछे, अपने देश को बनाया कोरोना मुक्त
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली : दुनियाभर के तमाम देश कोरोना वायरस से लड़ रहे हैं। सबकी प्राथमिकता संक्रमण को फैसले से रोकना और संक्रमित मरीजों का एलाज है। ऐसे में एक देश ने इस लक्ष्य को हासिल कर लिया है। न्यूजीलैंड में 17 दिनों में एक भी कोरोनावायरस के केस सामने नहीं आने के बाद इसे कोरोना मुक्त घोषित कर दिया गया। बता दें कि न्यूजीलैंड पहला ऐसा देश है जो कोरोना मुक्त हुआ है।

न्यूजीलैंड हुआ कोरोना मुक्त

तमाम देश जब कोरोना से जूझ रहे हैं और कड़ी मशक्क्त, कई बड़े फैसलों, अच्छे इक्विपमेंट होने के बाद भी देशों में महामारी बेकाबू होती जा रही हैं, ऐसे में एक देश ने कोरोना को जंग में मात देकर विश्व में रिकॉर्ड बना दिया है।

17 दिन में एक भी नया कोरोना केस नहीं आया सामने

न्यूजीलैंड को लेकर बड़ा एलान हुआ है। ये देश कोरोना मुक्त हो गया। बताया जा रहा है कि यहां 17 दिनों से कोरोना का कोई नया केस सामने नहीं आया। इस बारे में न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने जानकारी दी। उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड में मरीजों की संख्या शून्य हो गयी है। उन्होंने खुशिओ जाहिर करते हुए डांस करना शुरू कर दिया।

ये भी पढ़ेंः देश में कोरोना के गंभीर मरीजों की संख्या बढ़ी, दुनिया में दूसरे नंबर पर पहुंचा भारत

आखिरी संक्रमित मरीज भी हुआ ठीक

वहीं अस्पताल में भर्ती कोरोना के अंतिम मरीज को भी इलाज के बाद घर भेज दिया गया है। इस खुशखबरी के साथ ही पीएम जेसिंडा अर्डर्न ने देश से सभी तरह के प्रतिबंध हटा दिए हैं। देश पहले जैसी स्थिति में आ गया है, हालाँकि उन्होंने ये भी कहा कि अभी काम खत्म नहीं हुआ। संक्रमण को तो पूरी तरीके से बढ़ने से रोक दिया गया लेकिन अभी इस दिशा में प्रयास जारी रहेंगे।

बता दें कि न्यूजीलैंड में 50 लाख की आबादी रहती है, जिसमें कोरोना से 22 लोगों की मौत हो गयी थी। वहीं संक्रमण के 1154 मामले सामने आये थे। देश में इसे रोकने के लिए शुरू से ही कड़े कदम उठाये गए। पीएम ने देश की सीमाओं को शुरुआत में ही सील कर दिया और संक्रमण फैसले से रोकने के हर संभव प्रयास किये।

ये भी पढ़ेंः कोरोना पर फैसले को लेकर केजरीवाल-LG में आर-पार, BJP पर आप का निशाना

गौरतलब है कि अमेरिका और भारत समेत कई देश हैं, जहां संक्रमण फैसले से रोकना तो दूर हर दिन कोरोना का रिकॉर्ड टूट रहा है। महामारी बेकाबू हो गयी है और मरीजों की संख्या प्रतिदिन करीब 10 हजार सामने आ रही

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story