वैक्सीन पर बड़ा एलानः गरीब देशों को मिलेगा मुआवजा, WHO ने दी सहमति

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोवैक्स (COVAX) साझा योजना के माध्यम से कोविड-19 वैक्सीन प्राप्त करने के कारण 92 गरीब देशों में लोगों में गंभीर दुष्प्रभाव होने पर नो-फॉल्ट मुआवजा योजना को लेकर सहमति जताई है।

Published by Ashiki Patel Published: February 23, 2021 | 9:38 am
vaccine

File Photo

लंदन: दुनियाभर के कई देशों में कोरोना के खिलाफ जंग में वैक्सीनेशन का काम शुरू हो गया है। हालांकि, कई बार वैक्सीन के साइड इफेक्ट की भी खबरें आ चुकी हैं। अब वैक्सीन के गंभीर साइड इफेक्ट को ध्यान में रखकर बड़ा फैसला लिया गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोवैक्स (COVAX) साझा योजना के माध्यम से कोविड-19 वैक्सीन प्राप्त करने वाले 92 गरीब देशों के लोगों में गंभीर दुष्प्रभाव होने पर नो-फॉल्ट मुआवजा योजना को लेकर सहमति जताई है।

ये भी पढ़ें: रूस पर लगेगा प्रतिबंध! राष्ट्रपति पुतिन की बढ़ी मुश्किलें, 26 देश देंगे बड़ा झटका

तुरंत दिया जाएगा मुआवजा

दरअसल, COVAX के जरिए कोरोना का टीका हासिल करने वाले देशों में टीके के दुष्प्रभावों को लेकर चिंता जताई जा रही थी। WHO ने कहा कि यह दुनिया का पहला और एकमात्र वैक्सीन से नुकसान से जुड़े मुआवजा वाला प्रोग्राम है। मुआवजा मैकनिज्म अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काम करेगा। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एक बयान जारी कर कहा कि यह मुआवजा, योग्य लोगों को तुरंत और पारदर्शी तरीके से तुरंत दिया जाएगा।

ये भी पढ़ें: सड़कों पर चलने लगा घर: मंजर देख सकते में आए लोग, आप भी देखें ये वीडियो

कई महीनों से जारी थी चर्चा

बता दें कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की सहमति योजना पर पिछले कई महीनों से चर्चा चल रही थी। कोवैक्स एडवांस मार्केट कमिटमेंट-योग्य अर्थव्यवस्थाओं के लिए 30 जून 2022 तक किसी भी कोवैक्स वैक्सीन के तहत गंभीर साइड इफेक्ट्स को कवर करने के लिए किया गया है। कोवैक्स एडवांस मार्केट कमिटमेंट- 92 गरीब देशों का एक समूह है, जिसमें कि अधिकांश अफ्रीकी और दक्षिण पूर्व एशियाई देश शामिल हैं।

ये भी पढ़ें: कांगो में बड़ा हमला: इतालवी राजदूत पर अंधाधुंध फ़ायरिंग, मौत से UN तक हड़कंप

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App