कश्मीर मुद्दे पर भारत को घेरने के लिए पाकिस्तान ऐसे कर रहा है तैयारी

शाह महमूद कुरैशी ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि हमने संसद में एकता दिखाई थी। अब आज कश्मीर कमेटी की पहली बैठक में हम सांकेतिक रूप से एक साथ एकत्र हुए। ये बैठक इसलिए अहम है, क्योंकि इस बैठक में भारत के खिलाफ आगे लड़ने के लिए रोडमैप बनाने की कोशिश की जाएगी।

इस्लामाबाद:  पाकिस्तान में शनिवार को कश्मीर कमेटी की पहली बैठक हुई।

सात सदस्यीय कमेटी की बैठक पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी की अध्यक्षता में हुई।

इस बैठक में आईएसआई हेड जनरल फैज हमीद लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद और मेजर जनरल आसिफ गफूर ने हिस्सा लिया।

उनके साथ कानून मत्री नसीम,  इमरान खान के विशेष सलाहकार फिरदौस आशिक, अटॉर्नी जनरल अनवर मंसूर खान शामिल रहे।

शाह महमूद कुरैशी ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि हमने संसद में एकता दिखाई थी।

अब आज कश्मीर कमेटी की पहली बैठक में हम सांकेतिक रूप से एक साथ एकत्र हुए।

ये बैठक इसलिए अहम है, क्योंकि इस बैठक में भारत के खिलाफ आगे लड़ने के लिए रोडमैप बनाने की कोशिश की जाएगी।

संसद के संयुक्त सत्र में पारित प्रस्ताव को कश्मीर समिति की बैठक मे रखा गया।

यूएनएससी में कश्मीर मुद्दे पर हुई चर्चा का मामला भी बैठक में उठा।

बताते चले की पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस कमेटी को बीते छह अगस्त को बनाया था।

जब मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर में लागू अनुच्छेद 370 के अहम प्रावधानों को हटाने का निर्णय लिया था।

उसके बाद से इस कमेटी के सदस्य कश्मीर मुद्दे पर नजर बनाये हुए है।

ये भी पढ़ें…बारिश ने मचाया कहर, पानी-पानी हुआ शहर, मारे गये कई लोग

जम्मू में फोन सेवा बहाल

जम्मू और कश्मीर में शनिवार से फोन सेवाएं फिर से बहाल हो गई हैं।

जम्मू में जहां टू जी स्पीड के साथ इंटरनेट सेवा शुरू हो गई तो वहीं कश्मीर के श्रीनगर के कई क्षेत्रों में लैंडलाइन सेवाएं शुरू कर दी गई हैं।

हालांकि कश्मीर में इंटरनेट सेवा बहाल होने में वक्त लग सकता है।

प्रधान सचिव रोहित कंसल ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि जम्मू-कश्मीर में हालात सामान्य हो रहे हैं।

घाटी के 35 इलाकों में ढील दी गई। सार्वजनिक परिवहन सेवा भी शुरू कर दी गई है।

श्रीनगर के कई इलाकों में टेलीफोन सेवा बहाल किया जा चुका है।

प्रधान सचिव ने बताया कि कश्मीर के 96 में से 17 टेलीफोन एक्सचेंज चालू हो गए हैं।

घाटी में कई दिनों से बंद स्कूल अब सोमवार से खुल जाएंगे।

ये भी पढ़ें…राखी की हरकत! बिना सोचे कर दी बेडरूम पिक्चर्स शेयर

राजौरी में धारा में 144 में ढील

जम्मू के अलावा साम्बा, कठुआ, उधमपुर में टू जी स्पीड के साथ इंटरनेट सेवाएं शुरू की गई हैं।

राजौरी क्षेत्र में भी प्रतिबंधों में ढील दी गई है। राजौरी में धारा 144 के तहत रात नौ से सुबह पांच तक ही सीमित रहेगा।

इस संबंध में राजौरी के डीएम ने आदेश भी जारी किया है।

जम्मू क्षेत्र के 10 में से 5 जिलों में 2 जी सेवाएं बहाल कर दी गई हैं।

राज्य के जम्मू, साम्बा, कठुआ, उधमपुर और रेसाई जिले में सेवाएं बहाल कर दी गई हैं।

हालांकि, राजौरी, पुंछ, डोडा, रामबन और किश्तवाड़ जिले में इंटरनेट सेवाओं पर लगी रोक अब भी जारी है।

जम्मू-कश्मीर में पिछले पांच अगस्त से टेलीफोन सेवा बंद दी।

धारा 370 हटाने के बाद एहतियातन सरकार ने फोन और इंटरनेट सेवा पर रोक लगा दी थी।

राज्य प्रशासन ने प्रदेश के सभी स्कूल-कॉलेज और सरकारी दफ्तरों को भी सोमवार 19 अगस्त से खोलने के निर्देश दिए हैं।

ये भी पढ़ें…अस्पताल की लापरवाही ने कर दिया जीवन में अंधेरा, 11 लोग हुए शिकार