×

वाह रे दरिंदे पाकिस्तानी: बिल्ली से युवकों ने की हैवानियत, हालत जान कांप जाएगी रूह

पाकिस्तान में लड़कियों के साथ तो पशुओं जैसा व्यवहार किया जाता ही है, लेकिन अब पाकिस्तानियों ने एक बिल्ली के बच्चे के साथ हैवानियत की सारी हदें पार कर दीं। लाहौर से पशु क्रूरता का ऐसा मामला सामने आया है।

Newstrack
Updated on: 28 July 2020 4:00 PM GMT
वाह रे दरिंदे पाकिस्तानी: बिल्ली से युवकों ने की हैवानियत, हालत जान कांप जाएगी रूह
X
Cat
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: पाकिस्तान में लड़कियों के साथ तो पशुओं जैसा व्यवहार किया जाता ही है, लेकिन अब पाकिस्तानियों ने एक बिल्ली के बच्चे के साथ हैवानियत की सारी हदें पार कर दीं। लाहौर से पशु क्रूरता का ऐसा मामला सामने आया है जिसे मानवता झकझोर कर रख दिया है।

पाकिस्तान के लाहौर में 15 वर्षीय लड़के और उसके दोस्तों ने कथित रूप से एक बिल्ली से क्रूरतापूर्वक गैंग रेप किया। इसके बाद बिल्ली के बच्चे की जान चली गई। मासूम जानवर के साथ एक हफ्ते तक हैवानियत की गई।

बिल्ली के बच्चे के साथ हैवानियत की पशु अधिकार संगठन जेएफके एनिमल रेस्क्यू एंड शेल्टर के फेसबुक पोस्ट से सामने आई। उन्होंने पूरी घटना अपने फेसबुक हैंडल पर शेयर किया है। इन नाबालिग किशोरों के जघन्य अपराध के बारे में लोगों को बताया।

यह भी पढ़ें...रेहाना फातिमा का SC से सवाल-क्या नग्नता को कला की आज़ादी नहीं मानी जाएगी?

संगठन के फेसबुक पोस्ट में बताया गया कि बिल्ली का बच्चा नाबालिग लड़के के परिवार ने खरीदा था। जब वे इसे घर ले आए, तो नाबालिग और उसके दोस्तों ने एक सप्ताह तक उसके साथ गैंगरेप किया। गैंगरेप की वजह से उसके आंतरिक अंग गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त हो गए।

यह भी पढ़ें...राहुल का केंद्र सरकार पर बड़ा हमला, कोरोना काल में नौकरी छीनने का लगाया आरोप

निर्दोष बिल्ली के बच्चे के घाव से खून काफी खून बह रहा था। जेएफके एनिमल रेस्क्यू एंड शेल्टर ने बताया कि वह चल फिर नहीं सकता था, वह खा नहीं सकता था, वह बैठ नहीं सकता था, वह दर्द की वजह से कभी सो नहीं पा रहा था।

यह भी पढ़ें...चुनाव पर कोरोना ग्रहण: सरकार ने की ये बड़ी मांग, टल सकते हैं इलेक्शन

उन्होंने बताया कि उसे जब पशु चिकित्सक के पास लेकर गए तो उसके आंतरिक अंगों से बहुत सारे शुक्राणु, रक्त बाहर निकला। संगठन के मुताबिक बिल्ली के बच्चे की "भयानक स्थिति" को देखने के बाद उसी इलाके की एक लड़की ने आरोपियों से बिल्ली के बच्चे को मांगा। लेकिन इन लड़कों ने उसे देने से इंकार कर दिया। संगठन ने बताया कि बिल्ली के बच्चे को इलाज के लिए पशु चिकित्सक के पास लेकर गए, लेकिन उसकी जान नहीं बची।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story