भारत की ‘अग्नि’ से कांप उठा पाकिस्तान, इस खतरनाक मिसाइल का किया परीक्षण

भुखमरी के कगार पर पहुंच चुके पाकिस्तान का हथियार प्रेम खत्म नहीं हो रहा है। इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए सोमवार को उसने सतह से सतह पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण करने का दावा किया है।

नई दिल्ली: भुखमरी के कगार पर पहुंच चुके पाकिस्तान का हथियार प्रेम खत्म नहीं हो रहा है। इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए सोमवार को उसने सतह से सतह पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण करने का दावा किया है। यह मिसाइल परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है।

पाक सेना का दावा है कि यह मिसाइल किसी भी तरह के विस्फोटक को 650 किलोमीटर तक ले जाने में सक्षम है। पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

सेना प्रवक्ता ने बताया कि ‘शाहीन—1’ मिसाइल की लॉन्चिंग ट्रेनिंग का हिस्सा है। पाक सेना ने ट्वीट किया, ‘इस लॉन्च का उद्देश्य सेना के सामरिक बल कमान की तैयारियों का परखना था।’ पाकिस्तान की इस मिसाइल के दायरे में भारत के लगभग सभी क्षेत्र आएंगे। पाकिस्तान ने यह मिसाइल परीक्षण कहां किया है, यह अभी स्पष्ट नहीं है।

ये भी पढ़ें…सावधान! हुआ मिसाइल परीक्षण, दागे दो प्रोजेक्टाइल, अब नया प्लान

पाकिस्तान ने गजनवी का भी परीक्षण किया

5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के कुछ दिन बाद, पाकिस्तान ने 29 अगस्त को सतह से सतह तक मार करने वाली मिसाइल गजनवी का परीक्षण किया था। यह मिसाइल 290 किमी तक मार कर सकती है।

ये भी पढ़ें…पाकिस्तान ने मिसाइल से किया भारत पर बड़ा हमला, सेना ने उठाया ये कड़ा कदम

भारतीय सेना ने ब्रह्मोस और अग्नि-2 का सफल परीक्षण किया

भारतीय वायु सेना ने भी अक्टूबर में ब्रह्मोस सुपरसोनिक मिसाइल के सतह से सतह से मार करने वाले संस्करण का सफल परीक्षण किया था। वायु सेना ने मोबाइल प्लेटफॉर्म से किए गए परीक्षण के जरिए 300 किमी दूर स्थित लक्ष्य को सफलतापूर्वक निशाना बनाया था।

परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम, सतह से सतह पर मार करने वाली बहुउद्देश्यीय अग्नि-2 मिसाइल के सफल परीक्षण के बाद भी पाकिस्तान ने मिसाइल परीक्षण किया था।

अग्नि-2 मिसाइल मध्यम दूरी की बैलेस्टिक मिसाइल है, जो 2000 किमी तक मार कर सकती है। भारतीय सेना में इसे शामिल किया जा चुका है।

ये भी पढ़ें…इस पाकिस्तानी नेता ने पीएम मोदी से लगाई मदद की गुहार, पढ़ें पूरा मामला