बॉडीगार्ड को दिल दे बैठीं राजकुमारी: राज खुलने के डर से लुटाए करोड़ों, अब हुआ ऐसा

जॉर्डन की राजकुमारी और दुबई के शासक शेख की छठीं पत्नी हया बिन्त हुसैन के उनके बॉडीगार्ड के साथ संबंध थे। जिसे छिपाने के लिए उन्हें करोड़ो रुपये लुटाने पड़े। 

Princess Haya Bint Hussein

राजकुमारी का बॉडीगार्ड के साथ था अफेयर (फोटो- सोशल मीडिया)

लंदन: जॉर्डन की राजकुमारी और दुबई के शासक शेख की छठीं पत्नी हया बिन्त हुसैन के उनके बॉडीगार्ड के साथ संबंध होने की खबर सामने आ रही है। एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि राजकुमारी के उनके बॉडीगार्ड के साथ संबंध थे और इस रिश्ते को छिपाने के चक्कर में राजकुमार हया ने करोड़ों रुपये लुटा दिए। लेकिन आखिरकार ये राज पूरी दुनिया के सामने आ गया है। बता दें कि दुबई के शासक शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम ने उन्हें बिन बताए ही तलाक दे दिया था।

2016 में शुरू हुआ था बॉडीगार्ड के साथ अफेयर

रिपोर्ट में बताया गया है कि ब्रिटेन के कोर्ट में चली सुनवाई के आधार पर पता चला है कि राजकुमारी का अपने से नौ साल छोटे बॉडीगार्ड रसेल फ्लॉवर के साथ अफेयर 2016 में शुरू हुआ था। तभी वह बॉडीगार्ड राजकुमारी हया के लिए पूरी तरह काम करने लगा। रिपोर्ट के मुताबिक, राजकुमारी हया और बॉडीगार्ड रसेल फ्लॉवर का ये अफेयर करीब दो साल तक चला। वहीं इस रिश्ते को छिपाने के लिए राजकुमारी ने करोड़ों रुपये खर्च कर दिए।

यह भी पढ़ें: बर्बाद हो जाएगा पाकिस्तान! अब गूगल, फेसबुक और ट्विटर ने दी ये बड़ी धमकी

अन्य बॉडीगार्ड को चुप रहने के लिए दिए थे पैसे

बताया जा रहा है कि राजकुमारी ने तीन अन्य बॉडीगार्ड को भी रसेल के साथ अपने संबंध पर चुप रहने के लिए करोड़ों रुपये दिए थे। जानकारी के मुताबिक, राजकुमारी हया अपने बॉडीगार्ड को महंगे-महंगे गिफ्ट दिया करती थीं। हालांकि दुबई के शासक ने राजकुमारी को बिना बताए ही शरिया कानून के तहत फरवरी 2019 में उन्हें तलाक दे दिया था।

यह भी पढ़ें: ताबड़तोड़ धमाकों से कांपा देश: बिछ गईं लाशें ही लाशें, चारों तरफ मचा कोहराम

बच्चों की कस्टडी आई हया के हक में

राजकुमारी हया साल 2018 में ही दुबई छोड़ चुकी हैं और वह कई सालों से ब्रिटेन में रह रही हैं। वहीं तलाक होने के बाद बच्चों की कस्टडी को लेकर राजकुमारी ने ब्रिटेन की एक अदालत में केस फाइल किया था, जिसका फैसला हया के पक्ष में ही सुनाया गया था।

यह भी पढ़ें: G-20 शिखर सम्मेलन में छाया रहेगा ये मुद्दा, PM मोदी के संबोधन पर टिकी नजर

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App