×

पाकिस्तान में बारिश ने तोड़ा 89 साल का रिकार्ड, रेस्क्यू के लिए बुलानी पड़ी सेना

पाकिस्तान के लोगों पर बारिश आफत बनकर टूट रही है। कराची समेत कई बड़े शहर भारी बारिश और बाढ़ की चपेट में आ गये हैं।  अगस्त में कराची में इतनी ज्यादा बारिश हुई कि 89 साल का रिकॉर्ड टूट गया।

Newstrack
Updated on: 30 Aug 2020 12:50 PM GMT
पाकिस्तान में बारिश ने तोड़ा 89 साल का रिकार्ड, रेस्क्यू के लिए बुलानी पड़ी सेना
X
हालात कितने बदतर हो गये हैं, इसका अंदाजा आप इस बात से ही लगा सकते हैं कि कराची जैसे शहर में बाढ़ के कारण अभी तक 40 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है।
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के लोगों पर बारिश आफत बनकर टूट रही है। कराची समेत कई बड़े शहर भारी बारिश और बाढ़ की चपेट में आ गये हैं। अगस्त में कराची में इतनी ज्यादा बारिश हुई कि 89 साल का रिकॉर्ड टूट गया। भारी बारिश के बाद पानी घुसने की वजह से लोगों को घर छोड़ना पड़ा है।

हालात कितने बदतर हो गये हैं, इसका अंदाजा आप इस बात से ही लगा सकते हैं कि कराची जैसे शहर में बाढ़ के कारण अभी तक 40 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है। जबकि पूरे पाकिस्तान में सैकड़ों लोगों को जान से हाथ धोना पड़ा है।

ये भी पढ़ें: सुशांत केस: रिया चक्रवर्ती से ED की पूछताछ, इन सवालों के देने होंगे जवाब

Flood पाकिस्तान में बारिश के बाद आई बाढ़ की फाइल फोटो

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि वे कराची की आधारभूत संरचना को बेहतर बनाने के लिए काम करेंगे। उन्होंने कहा कि देश कराची के लोगों के दर्द को महसूस करता है।

वहीं कराची के कमिश्नर ने बताया कि बारिश से प्रभावित 8 हजार लोगों को खाने के सामान और अन्य जरूरी चीजें मुहैया कराई गई हैं। उधर प्रशासन ने बाढ़ के कारण बिगड़ते हालात को देखते हुए स्कूलों में रहने की व्यवस्था की है। सेना को राहत बचाव कार्य में लगाया गया है।

ये भी पढ़ेंः चीन से टेंशन: भारत का बड़ा फैसला, रूस में होने वाले सैन्य अभ्यास पर किया ये एलान

Flood पाकिस्तान में बारिश के बाद आई बाढ़ की फाइल फोटो

अगस्त में इतनी अधिक बारिश पहले कभी नहीं हुई: मौसम विभाग

मौसम विभाग के मुताबिक अगस्त में इतनी अधिक बारिश पहले कभी नहीं हुई। भारी बारिश और बाढ़ की वजह से कराची के विभिन्न इलाकों की बिजली भी चली गई और मोबाइल सेवा भी बाधित हो गई। कराची में भारी बारिश के दौरान कुछ लोगों की मौत बिजली का करंट लगने से भी हो गई।

ये भी पढ़ें: UP में अब हारेगा कोरोना: दुकानदारों समेत इन सभी की होगी जांच, मिला निर्देश

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story