महाबलीपुरम: आज मिलेंगे जिनपिंग और मोदी, ये है पूरा कार्यक्रम

प्रधानमंत्री मोदी के आमंत्रण पर ‘पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना के प्रमुख शी चिनफिंग अनौपचारिक शिखर वार्ता के लिए 11 -12 अक्टूबर 2019 को चेन्नई में होंगे। यह शिखर वार्ता चेन्नई के समीप प्राचीन तटीय शहर मामल्लापुरम में होगी। मंत्रालय ने कहा कि शिखर वार्ता के दौरान दोनों देश भारत-चीन विकास साझेदारी को गहरा करने पर विचार विमर्श करेंगे।

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग की दूसरी अनौपचारिक शिखर वार्ता होगी। यह जानकारी विदेश मंत्रालय ने दी है। इस शिखर वार्ता में दोनों नेताओं द्वारा द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक महत्व के व्यापक मुद्दों पर बातचीत की जाएगी।

प्रधानमंत्री मोदी के आमंत्रण पर ‘पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना के प्रमुख शी चिनफिंग अनौपचारिक शिखर वार्ता के लिए 11 -12 अक्टूबर 2019 को चेन्नई में होंगे। यह शिखर वार्ता चेन्नई के समीप प्राचीन तटीय शहर मामल्लापुरम में होगी। मंत्रालय ने कहा कि शिखर वार्ता के दौरान दोनों देश भारत-चीन विकास साझेदारी को गहरा करने पर विचार विमर्श करेंगे।

आतंक पर होगी चर्चा

दोनों नेताओं में द्विपक्षीय व्यापार, आतंकवाद और क्षेत्रीय शांति व स्थिरता जैसे मुद्दों पर चर्चा होगी। संयुक्त राष्ट्र में सुधार और विश्व व्यापार संगठन के सामने मौजूद चुनौतियों से निपटने के उपायों पर भी बातचीत संभव है।

ये भी देखें :ऐसे ही महाबलीपुरम में नहीं मिल रहे दो ‘महाबली’, ये है पुराना इतिहास

यहां जानें क्या है पूरा कार्यक्रम

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग शुक्रवार को अपराह्न 13:20 बजे चेन्नई पहुंचेंगे। जिनपिंग निर्धारित कार्यक्रम यहां के गुइंडी स्थित एक होटल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ द्विपक्षीय तथा व्यापारिक मुद्दों पर वार्ता करेंगे, जिसको लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं। जिनपिंग के हवाई अड्डे पर पहुंचने के बाद पारंपरिक नृत्य तथा संगीत के जरिये उनका स्वागत किया जाएगा और इसके बाद वह 13:45 बजे होटल पहुंचेंगे।

जिनपिंग होटल में थोड़ी देर ठहरने के बाद सड़क मार्ग से चेन्नई से लगभग 55 किलोमीटर दूर महाबलीपुरम रवाना होंगे, जहां वह पीएम मोदी के साथ शाम पांच बजे ‘अजुर्न पेनांस’, पांच बजकर 20 मिनट पर पांच रथ तथा पांच बजकर 45 मिनट पर प्रसिद्ध शोर मंदिर जाएंगे। जिनपिंग यहां सांस्कृतिक समारोह में शामिल होने और महत्वपूर्ण नेताओं से मुलाकात करने के बाद रात नौ बजे होटल लौट आएंगे।

ये भी देखें : राफेल अभी नहीं हुआ हमारा, जानें लगेगा कितना समय और बहुत कुछ

चीन के राष्ट्रपति 12 अक्टूबर को सुबह नौ बजे तटीय शहर रवाना हो जाएंगे, जहां पर वह पीएम मोदी के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। पीएम मोदी के साथ भोजन करने के बाद जिनपिंग 1315 बजे चेन्नई लौट आएंगे और इसके बाद अपराह्न 14:20 चीन रवाना हो जाएंगे।

दौरे से पहले चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कश्मीर मुद्दे पर ये कहा था

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के संभावित भारत दौरे से पहले चीन ने पाकिस्तान और भारत से कश्मीर मुद्दे को सुलझाने की बात कही है।

दरअसल, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान चीन के अपने तीसरे आधिकारिक दौरे पर मंगलवार को बीजिंग पहुंचे। इस दौरान चीन ने कहा कि कश्मीर के मुद्दे को नई दिल्ली और इस्लामाबाद के बीच हल किया जाना चाहिए।

ये भी देखें : खतरनाक साजिश! ​कश्मीर में हाफिज सईद की रैली, जानें क्या है मकसद

बता दें कि पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा और चीनी सैन्य नेतृत्व ने मंगलवार को यहां कश्मीर मुद्दे पर चर्चा की। जनरल बाजवा ने पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) मुख्यालय में इसके कमांडर आर्मी जनरल हान वीगुओ और केंद्रीय सैन्य आयोग (सीएमसी) के उपाध्यक्ष जनरल शू किइलियांग से मुलाकात की।

कश्मीर मुद्दे को भारत और पाकिस्तान के बीच हल किया जाना चाहिए

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की भारत यात्रा से पहले इमरान खान की बीजिंग यात्रा के दौरान कश्मीर मुद्दे के इस सवाल पर गेंग ने कहा कि चीन यह मानता है कि कश्मीर मुद्दे को भारत और पाकिस्तान के बीच हल किया जाना चाहिए।