×

अमेरिका में अब नहीं मिलेगी विदेशी नागरिकों को नौकरी, ट्रंप ने लिया ये बड़ा फैसला

अगर आप अमेरिका में नौकरी करने के बारे में सोच रहे है तो ये खबर आपके लिए पढ़ना बेहद ही जरूरी है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर करने के बाद अमेरिकी नागरिकों की विदेशी प्रोफेशनल्स को रखने पर रोक लगा दी गई है।

Newstrack
Updated on: 4 Aug 2020 3:51 AM GMT
अमेरिका में अब नहीं मिलेगी विदेशी नागरिकों को नौकरी, ट्रंप ने लिया ये बड़ा फैसला
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

वाशिंगटन: अगर आप अमेरिका में नौकरी करने के बारे में सोच रहे है तो ये खबर आपके लिए पढ़ना बेहद ही जरूरी है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर करने के बाद अमेरिकी नागरिकों की विदेशी प्रोफेशनल्स को रखने पर रोक लगा दी गई है।

ट्रंप ने अमेरिकी कम्पनियों से कहा कि वे विदेशी प्रोफेशनल्स को काम पर न रखें, बल्कि उनकी जगह अमेरिकन को रखें। उन्होंने कहा है कि हमारा सीधा नियम है- अमेरिकन को रखो। अमेरिकी राष्ट्रपति ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है।

अब होगी जंग: चीन के खिलाफ अमेरिका भेजेगा सेना, पेश हुआ ये बिल

राष्ट्रपति के इस फैसले के बारे में जानकारी देते हुए अमेरिका के श्रम मंत्री ने कहा है कि एच-1बी वीजा के नाम पर धोखाधड़ी रोकने और अमेरिकियों के हितों की रक्षा करने के लिए इस तरह का निर्णय लिया गया है।

जबकि सियासी जानकार इसे अमेरिका में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव से जोडकर देख रहे हैं। उनका मानना है कि ट्रंप ने ये सब अमेरिकी वोटर्स को लुभाने के लिए किया है।

उनके द्वारा उठाया गया इस तरह का कदम अमेरिकी श्रमिकों के लिए मददगार माना जा रहा है, लेकिन इससे उन लोगों की उम्मीदों को तगड़ा झटका लगा है, जो एच-1बी वीजा पर अमेरिका में नौकरी का सपना संजोए बैठे थे।

अमेरिका युद्ध को तैयार: चीन ने कर दी भयानक गलती, ट्रंप हुए आग-बबूला

अमेरिका और चीन के बीच बढ़ा तनाव

अमेरिकी और चीन में तनाव चरम पर पहुंचा गया है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लगातार ड्रैगन को धमकी दे रहे हैं। ट्रंप ने कोरोना वायरस फैलाने के लिए चीन को जिम्मेदार बताया है। अमेरिकी राष्ट्रपपति ने चीनी वायरस तक कहते हैं।

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि अमेरिका में भी टिक टॉक पर बैन लगाया जा सकता है। ट्रंप ने अपने बयान में कहा कि हमारा प्रशासन भी टिक टॉक पर एक्शन लेने के लिए इसका मूल्यांकन कर रहा है। उन्होंने बताया कि एक प्रचलित चीनी वीडियो ऐप अब राष्ट्रीय सुरक्षा और सेंसरशिप के मुद्दे का एक स्रोत बन गया है।

ट्रंप ने ऐसे समय में बयान दिया है जब कहा जा रहा है कि बाइट डांस टिक टॉक को बेच सकता है। इसके लिए और बाइट डांस और माइक्रोसॉफ्ट के बीच बातचीत चल रही है।

जानें, क्या है एच1बी वीजा?

-एच1बी वीजा ऐसे विदेशी पेशेवरों को जारी किया जाता है जो किसी ‘खास’ कामों के लिए स्किल्ड होते हैं।

-अमेरिकी सिटीजनशिप और इमिग्रेशन सर्विसेज के मुताबिक, इन ‘खास’ कामों में वैज्ञानिक, इंजीनियर और कंप्यूटर प्रोग्रामर शामिल हैं।

-हर साल करीब 65,000 को लॉटरी सिस्टम के जरिए ऐसे वीजा जारी किए जाते हैं।

-आईटी कंपनियां इन्हीं प्रोफेशनल पर ज्यादा निर्भर होती है।

हार रहा अमेरिकाः क्या ट्रंप जीत पाएंगे ये जंग, जिसने मचा दी तबाही

Newstrack

Newstrack

Next Story