हॉन्गकॉन्ग पर अमेरिका ने लिया ये बड़ा फैसला, अब क्या करेगा चीन

हॉन्गकॉन्ग को लेकर अमेरिका और चीन में टकराव बढ़ गया है। अमेरिका ने ऐसा फैसला लिया है जिससे चीन बौखलाएगा। अमेरिकी सीनेट ने हॉन्गकॉन्ग से जुड़े विवादित कानून को लेकर चीन पर बैन लगाने को मंजूरी दे दी है।

वाशिंगटन: हॉन्गकॉन्ग को लेकर अमेरिका और चीन में टकराव बढ़ गया है। अमेरिका ने ऐसा फैसला लिया है जिससे चीन बौखलाएगा। अमेरिकी सीनेट ने हॉन्गकॉन्ग से जुड़े विवादित कानून को लेकर चीन पर बैन लगाने को मंजूरी दे दी है। इससे संबंधित बिल को अमेरिकी सीनेट ने पास कर दिया है।

इस बिल में चीन के वैसे अधिकारियों, व्यापारियों और बैंक पर बैन लगाने का प्रावधान है जो हॉन्गकॉन्ग की स्वायत्तता को कम करने का प्रयास कर रहे हैं। डेमोक्रेट और रिपब्लिकन सीनेटरों द्वारा लाए गए इस बिल को सीनेट ने ध्वनि मत से पारित कर दिया है।

इससे पहले इसी महीने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक और बिल पर हस्ताक्षर किए थे। इस बिल चीन में उइगर मुसलमानों को प्रताड़ित करने वाले चीनी अधिकारियों को दंडित करने का प्रावधान किया गया है। इसके ठीक बाद अमेरिका ने चीन को दंडित करने के लिए एक और बिल पास कर दिया है। इसके बाद अमेरिका और चीन में तनाव बढ़ना तय है।

यह भी पढ़ें…अमेरिका बोला- भारत के लिए खतरा बन गया है चीन, सेना भेजने का कर दिया ऐलान

माइक पॉम्पिओ ने चीन को बताया खतरा

इससे पहले अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पिओ ने चीन को भारत और दक्षिणपूर्व एशिया के लिए खतरा बताया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उसकी वजह से अमेरिका ने यूरोप में अपनी सेना घटानी शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें…चीन-नेपाल के बाद अब इस देश ने दिखाई भारत को पीठ, खड़ी की मुश्किलें

पॉम्पिओ से सवाल पूछा गया था कि जर्मनी में अमेरिकी सेना की टुकड़ी को क्यों घटा दिया गया। माइक ने कहा कि वहां से हटाकर सेना को दूसरी जगह तैनात किया जा रहा है। अमेरिका ने कहा कि वह अपनी सेना को एशिया में तैनात करेगा।

यह भी पढ़ें…कोरियाई युद्ध के 70 साल: सोल में PM मोदी का संदेश, योद्धाओं को किया सलाम

अमेरिकी विदेश मंत्री ने कहा कि चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के ऐक्शन से लग रहा है कि वह भारत, वियतनाम, इंडोनेशिया, मलेशिया, फिलिपीन और साउथ चाइना सी में खतरा है। अमेरिकी सेना को हमारे समय की इन चुनौतियों से निपटने के लिए सही तरीके से तैनात कर दिया गया है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App