ओलंंपिक पर लटकी कोरोना वायरस की तलवार, जानिए पूरा मामला

आज के वक्त में  पूरी दुनिया में कोराेना वायरस की दशहत हैं। जिसका असर खेल की दुनिया पर भी पड़ा है। चीन के वुहान शहर से निकलकर अब यह वायरस दुनियाभर में फैल रहा है। जिस वजह से खेल के कई इवेंट को रद्द कर दिया गया  है।

Published by suman Published: February 15, 2020 | 10:49 am

टोक्यो:  आज के वक्त में  पूरी दुनिया में कोराेना वायरस की दशहत हैं। जिसका असर खेल की दुनिया पर भी पड़ा है। चीन के वुहान शहर से निकलकर अब यह वायरस दुनियाभर में फैल रहा है। जिस वजह से खेल के कई इवेंट को रद्द कर दिया गया  है। यह साल ओलिंपिक ईयर है, जिसके कारण हर एक टूर्नामेंट खिलाड़ियों के लिए काफी अहम हैं, मगर इस वायरस के डर के कारण खिलाड़ी भी टूर्नामेंट में हिस्सा लेने से बच रहे हैं।

यह पढ़ें…कांग्रेस ने उठाया किसानों को मिलने वाले कम लागत मूल्य का मामला, किया वाकआउट

खबरें  है कि कोरोना वायरस  के कारण इस साल टोक्यो  में होने वाले ओलिंपिक रद्द हो सकते हैं। ओलिंपिक आयोजन से जुड़े प्रमुख अधिकारी ने कहा कि विश्व स्वास्थ संगठन (डब्ल्यूएचओ) से मिले निर्देशों के मुताबिक टोक्यो ओलंपिक  ) को रद्द करने या दूसरी जगह स्थानांतरण के लिए कोई आकस्मिक योजना नहीं बनाई गई है।

 

उन्होंने कहा कि इस मामले से निपटने के लिए हालांकि अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक समिति (आईओसी) ऐसी सूचनाएं प्रसारित करेगी, जिसमें बताया जाएगा कि चीन  से आए खिलाड़ियों के संपर्क में आने से कोई समस्या नहीं है। आईओसी सदस्य जॉन कोट्स ने यहां समीक्षा बैठक के बाद कहा कि डब्ल्यूएचओ ने हमें जो निर्देश दिया है उसके मुताबिक हमने इन खेलों को रद्द करने या कहीं और स्थानांतरण करने की कोई आकस्मिक योजना नहीं बनाई हैं।

 

यह पढ़ें…स्कूल में भयानक ब्लास्ट: बिछ गई बच्चों की लाशें, दहल गया देश

इन खेलों में चीन का एक बड़ा दल हिस्सा लेता है. चीन से इन खेलों के लिए आ रहे 600 से अधिक खिलाड़ियों की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि हमें बड़े स्तर पर संचार (खिलाड़ियों से संपर्क) कार्य करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हमें पता चला है कि चीन  के ज्यादातर खिलाड़ी दूसरे देशों में हैं। मुझे नहीं पता कि यहां परीक्षण प्रतियोगिताओं में उनके कितने खिलाड़ी आ रहे हैं। अगर वह चीन की जगह किसी अन्य देश से आ रहे हैं तो मुझे नहीं लगता कि इसमें कोई परेशानी है।