PCS की तैयारी करने वालों के लिए बुरी खबर, आयोग ने उठाया ये बड़ा कदम

अब उन अभ्यर्थियों को जोरदार झटका लगने वाला है जो सालों तक आधी अधूरी तैयारी के साथ प्रांतीय सिविल सेवा (Provincial Civil Service- PCS) इग्जाम में किस्मत आजमाते हैं।

Published by Shreya Published: December 31, 2019 | 10:13 am
PCS की तैयारी करने वालों के लिए बुरी खबर, आयोग ने उठाया ये बड़ा कदम

PCS की तैयारी करने वालों के लिए बुरी खबर, आयोग ने उठाया ये बड़ा कदम

अब उन अभ्यर्थियों को जोरदार झटका लगने वाला है जो सालों तक आधी अधूरी तैयारी के साथ प्रांतीय सिविल सेवा (Provincial Civil Service- PCS) इग्जाम में किस्मत आजमाते हैं। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (UPPSC) ने बड़ा फैसला लेते हुए परीक्षा के लिए अधिकतम आयु सीमा (Age Limit) को घटाने जा रहा है। UPPSC आयु सीमा को घटाकर PCS परीक्षा देने के अवसरों को संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) के पैटर्न पर सीमित करने जा रहा है।

वर्तमान व्यवस्था में होगा बदलाव

मौजूदा समय में UPPSC द्वारा PCS के पदों के लिए कराई जाने वाली सबसे अहम परीक्षा में भाग लेने वाले उम्मीदवारों के लिए न्यूनतम आयु सीमा 21 वर्ष है। वहीं इस परीक्षा के लिए सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों के लिए अधिकतम आयु सीमा 40 और OBC समेत अन्य आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों के लिए अधिकतम आयु सीमा 45 वर्ष है। साथ ही भूतपूर्व सैनिक के लिए भी 45 वर्ष अधिकतम आयु सीमा है।

यह भी पढ़ें: IAS अफसरों की बल्ले-बल्ले, नए साल में मिला ये बढ़ा तोहफा…

अभी इतने मिलते हैं मौके

इस परीक्षा में भाग लेने के लिए सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को 20 अवसर, आरक्षित वर्ग को 25 और दिव्यांग को 40 बार तक अवसर दिए जा सकते हैं। उम्मीदवारों को इतने अधिक मौके मिलने की वजह से कई बार उम्मीदवार आधी तैयारी के साथ परीक्षा में भाग ले लेते हैं। हर साल उम्मीदवारों की संख्या में बढ़ोत्तरी होती रहती है। साल 2016 में 4.36 लाख आवेदन किए गए। वहीं 2017 में 4.55 लाख और 2018 में 6.36 लाख आवेदन किए गए थे।

आवेदन की बढ़ती संख्या से आयोग के सामने बड़े पैमाने पर इंतजाम करने की चुनौती खड़ी हो जाती है। साथ ही परिणाम घोषित करने में भी अधित वक्त लगता है। इसके अलावा सरकार को अपेक्षाकृत युवा ऑफिसर मिलने की संभावना भी कम रहती है। जिसके चलते UPPSC अधिकतम आयु को कम कर सकता है।

राज्य सरकार को प्रस्ताव भेज सकता है आयोग

सूत्रों के मुताबिक, उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (UPPSC) वर्तमान व्यवस्था में बदलाव कर सकता है। साथ ही इस संबंध में आयोग जल्द ही फैसला भी कर सकता है। जरुरत पड़ने पर आयोग राज्य सरकार को संबंधित प्रस्ताव भेज सकता है।

यह भी पढ़ें: बॉलीवुड ऑलराउंडर: एक्टर के साथ ये सारे हुनर भी थे इनके पास

आयोग का मानना है कि संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा अखिल भारतीय स्तर की सिविल सेवा परीक्षा (Civil Services Examination) के लिए लागू व्यवस्था ही उचित रहेगी। IAS परीक्षा के लिए उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 21 साल होनी चाहिए। लेकिन इस परीक्षा में सामान्य वर्ग के लिए अधिकतम आयु सीमा 32 वर्ष है और परीक्षा देने के अवसर कम हैं। सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को परीक्षा में भाग लेने के लिए 6 ही मौके दिए जाते हैं।

वहीं OBC समेत अन्य पिछड़े वर्ग के उम्मीदवारों के लिए अधिकतम आयु 35 वर्ष है और परीक्षा में भाग लेने के लिए उनके पास 9 अवसर हैं। वहीं SC और ST के लिए आयु की कोई बाध्यता नहीं है। जम्मू-कश्मीर के उम्मीदवारों को आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट और दिव्यांगों को 10 वर्ष की छूट है।

मिल सकेंगे युवा अवसर

अधिकतम आयु सीमा में कटौती करने से राज्य सरकार को 32 वर्ष तक के युवा ऑफिसर मिल सकेंगे। इसके अलावा 32 वर्ष के ऐसे युवाओं, जिन्हें परीक्षा में सफलता नहीं मिल पाई हो, उनके सामने दूसरे क्षेत्र में भविष्य बनाने के बहुत से मौके भी रहेंगे।

यह भी पढ़ें: टूट गया 119 सालों का रिकार्ड, अभी नहीं थमेगा ठंड का सितम