बाढ़ का ऐसा भयानक कहर, केरल से गुजरात तक 221 लोगों की मौत

देश के कई राज्यों में बाढ़ और बारिश से हाहाकार मचा हुआ है। बाढ़ और बारिश ने तबाही मचा कर रख दी है। केरल, कर्नाटक, गुजरात और महाराष्ट्र में कुदरत ने तबाही मचा रखी है। कुदरत का ऐसा हमला हुआ है कि दक्षिण डूब रहा है और पश्चिम तक हाहकार और चीखपुकार मची हुई है।

Flood

Flood

नई दिल्ली: देश के कई राज्यों में बाढ़ और बारिश से हाहाकार मचा हुआ है। बाढ़ और बारिश ने तबाही मचा कर रख दी है। केरल, कर्नाटक, गुजरात और महाराष्ट्र में कुदरत ने तबाही मचा रखी है। कुदरत का ऐसा हमला हुआ है कि दक्षिण डूब रहा है और पश्चिम तक हाहकार और चीखपुकार मची हुई है।

देश के नौ राज्यों में बाढ़ से अब तक 221 लोगों की जान जा चुकी है। इसके साथ ही सैकड़ों लोग लापता हैं। केरल में पिछले साल भी बाढ़ ने तबाही मचाई थी। इस बार भी केरल में सबसे ज्यादा मौत हुई है। यहां मौत का आंकड़ा 72 पहुंच गया है, जबकि 58 लोग लापता हैं। मलप्पुरम में भूस्खलन हुआ जिसमें से अब तक 11 लोगों के शव निकाले जा चुके हैं, लेकिन कई लोगों के अब भी दबे होने की आशंका है।

AASAM FLOOD

यह भी पढ़ें…‘इसमें तेरा घाटा, मेरा कुछ नहीं जाता’, कुछ ऐसा है पाकिस्तान का हाल

कर्नाटक में भी मौत का आंकड़ा 40 तक पहुंच गया है। यहां बेलगावी में बाढ़ ने सबसे ज्यादा तबाही मचाई है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने बाढ़ प्रभावित कर्नाटक के इलाकों का हवाई दौरा किया। शाह ने महाराष्ट्र के कई इलाकों का भी जायजा लिया।

महाराष्ट्र में 761 गांव बाढ़ से जलमग्न हो चुके हैं। बाढ़ की वजह से 200 से ज्यादा सड़कें और 90 ब्रिज बंद कर दिए गए हैं। राहत और बचाव कार्य में 226 नौकाओं और 105 रेस्क्यू टीम को लगाया गया है। अब तक पांच लाख लोगों को बाढ़ प्रभावित इलाकों से निकालकर सुरक्षित पहुंचाया जा चुका है।

यह भी पढ़ें…कश्मीर मुद्दे पर अलग-थलग पड़ा पाकिस्तान, तो ट्विटर पर भीख मांगने लगे इमरान

महाराष्ट्र के सांगली में सेना के जवान लोगों को बचाने और राहत सामग्री पहुंचाने में दिन-रात जुटे हैं। उधर, गुजरात में नर्मदा पर बना गरुड़ेश्वर बांध भर चुका है। उससे छोड़ा जा रहा पानी निचले इलाकों में तबाही मचा रहा है। वहीं सूरत की सूरत भी बाढ़ ने बिगाड़ रखी है।

केरल और कर्नाटक के अलावा बाढ़ से उत्तराखंड में 26 और गुजरात में 24 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा उत्तराखंड, राजस्थान और हिमाचल में बारिश और बाढ़ का कहर जारी है। तमाम एजेंसियों के सामने हालात सामान्य बनाने की बड़ी चुनौती है।

यह भी पढ़ें…आईबी ने जारी किया अलर्ट, बकरीद पर हमला कर सकते हैं आतंकी

सेना, नौसेना और वायुसेना लगातार जिंदगी बचाने में जुटे हैं। केरल में भारतीय वायुसेना के हेलीकॉप्टरों से 1000 किलो से भी ज्यादा की राहत सामग्री गिराई जा चुकी है। वायुसेना के MI 17 हेलीकॉप्टर लगातार मल्लपुरम के चक्कर लगा रहे हैं।