गांवों तक पहुंचा कोरोना, 40 संक्रमित मिले, पूरा गांव क्वारंटाइन

उत्तर कश्मीर के बांदीपोरा जिले के गुंड जहांगीर इलाके के डांगर गांव में 41 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। जिसके बाद पूरे गांव को क्वारंटाइन कर दिया गया

पूरे देश में कोरोना का कहर जारी है। आए दिन देश में कोरोना के मामलों में बढ़ोत्तरी होती जा रही है। सरकार द्वारा लाख प्रयास के बाद भी अभी तक इस जानलेवा वायरस पर काबू नहीं पाया जा सका है। देश में हालात बिगड़ते जा रहे हैं। इस्सी बीच कश्मीर से कोरोना को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है। यहां एक गाँव के 41 लोग कोरोना संक्रमित पाये गए हैं। जिसके बाद पूरे गांव को क्वारंटाइन कर दिया गया है।

पूरे गांव को किया गया क्वारंटाइन

कोरोना का कहर अब भारत की जन्नत में भी पूरा तरह से हावी है। कश्मीर से कोरोना को लेकर अब एक बड़ी खबर सामनी आ रही है। यहां उत्तर कश्मीर के बांदीपोरा जिले के गुंड जहांगीर इलाके के डांगर गांव में 41 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। जिसके बाद पूरे इलाके में हाहाकार मच गया। एक ही गांव के 41 लोगों के संक्रमित पाए जाने के बाद पूरे गांव को ही क्वारंटाइन कर दिया गया है। प्रदेश में सबसे ज्यादा मामले इसी बांदीपोरा जिले से आए हैं।

ये भी पढ़ें-   अमेरिका का चीन पर सनसनीखेज आरोप, राष्ट्रपति ट्रंप बोले- हमारे देश पर हमला हुआ है

इस जिले से अब तक 91 संक्रमित मामले सामने आ चुके हैं। संक्रमित पाए गए 41 लोगों में 36 लोग ऐसे हैं जिनके दोस्त या रिश्तेदारों की कोरोना संक्रमण की वजह से मौत हो चुकी है। एसडीएम् ने जानकारी देते हुए बताया कि पूरे गांव की आबादी करीब 400 है। इनमें से आधे के करीब लोग पहले से ही प्रशासन द्वारा स्थापित क्वारंटीन सेंटर में रखे गए हैं। बाकी के लोगों को होम क्वारंटीन किया गया है।

संक्रमित हुए पहले व्यक्ति से फैला संक्रमण

इन सभी लोगों को का रैपिड टेस्ट किया गया जिसमें से 45 लोगों के टेस्ट की रिपोर्ट निगेटिव आई है। जिसके बाद वहां के लोगों ने थोड़ी राहत की सांस ली है। एक अधिकारी द्वारा बताया गया कि ये सभी मामले सबसे पहले पॉजिटिव पाए गए व्यक्ति के संक्रमण फैलने से फैले हैं। इस पहले संक्रमित व्यक्ति की मौत श्रीनगर में हुई थी। अधिकारी द्वारा यह भी जानकारी दी गई कि इस मरने वाले संक्रमित व्यक्ति की कोई ट्रैवेल हिस्ट्री नहीं है।

ये भी पढ़ें-   इस कोतवाल के ड्राइवर की कोरोना पर ये हरकत हुई वायरल, लोगों ने ये कहा

जिसके कारण ये जानकारी नहीं हो पाई हाई कि वो व्यक्ति कहां गया और किससे मिला। अधिकारी ने बताया कि परिवार वालों से मिली जानकारी के अनुसार वह संक्रमित व्यक्ति सेब का व्यापार करता था। वह बीमारी के चलते पिछले चार महीने से कहीं बाहर नहीं जा पाया था। परिवार वालों ने बताया कि इस दौरान न वह कहीं गया और न ही किसी से मिला। अधिकारी ने कहा कि हम पता कर रहे हैं कि वायरस इतना ज्यादा कैसे फ़ैल गया।

घाटी में भी जारी कोरोना का कहर

ये भी पढ़ें-  गुजरात को सता रहा इस बात का डर, सरकार ने घटा दी जांचों की संख्या

बांदीपोरा जिले की बात करें तो यहां प्रदेश में सबसे ज्यादा 91 संक्रमित मरीज पाए गए हैं। जिनमें से 16 मरीजों को ठीक किया जा चुका है जबकि बाकी 75 मामले अभी भी स्संक्रमित ही हैं। जाहिर है कि जमातियों के सामने आने के बाद प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या में काफी इजाफा हुआ है। इसके अलावा घाटी में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। घाटी में 11 नए मरीज पाए गए जिसमें से 10 मरीज शोपियां जिले के हैं। यहां एक ही गांव से 8 लोग संक्रमित पाए गए हैं। जिसके चलते अब जिले में संक्रमितों की संख्या 30 हो गई है। जो एक अधिकारी के अनुसार सोमवार तक 22 थी।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App