बैंगलोर: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आज सेवा निवृत्त सैनिक सम्मेलन में करेंगे शिरकत

बीएसएफ के जवानों को सीमा पर तैनात किया जाता है, जबकि भारतीय सेना के जवान सीमा से दूर रहते हैं और युद्ध के लिए खुद को तैयार करते हैं। साथ ही यह क्रॉस बॉर्डर ऑपरेशन भी करती है।

Skip to main contentSkip to toolbar About WordPress Newstrack 00 Comments in moderation New SEOEnter a focus keyphrase to calculate the SEO score Howdy, Aditya Mishra Log Out Screen OptionsHelpWordPress 5.6 is available! Please notify the site administrator. Add New Post Add title बैंगलोर: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आज सेवा निवृत्त सैनिक सम्मेलन में करेंगे शिरकत Add MediaVisualText Heading 3 H3 Word count: 418 Toggle panel: News Sitemap Toggle panel: Publish Preview(opens in a new tab) Status: Draft EditEdit status Visibility: Public EditEdit visibility Publish immediately EditEdit date and time AMP: Enabled EditEdit Status Readability: Needs improvement SEO: Not available Toggle panel: Format Post Formats Standard Video Gallery Toggle panel: Categories All Categories Most Used Astro Career Crime Education Entertainment Gadgets Gallery Health India Lead Story Lifestyle Live Track Miscellaneous News Opinion Photo Gallery Politics Social Media Sports IPL Tourism Trending uncategorized UP Polls Videos Newstrack F5 Y Factor with Yogesh Mishra World अजब गजब उत्तर प्रदेश उत्तराखंड झारखण्ड पर्यटन बिज़नेस बिहार रिलेशनशिप स्टार्टअप स्पेशल ख़बरें + Add New Category Toggle panel: Tags Add New Tag Separate tags with commas Choose from the most used tags Toggle panel: Featured Image Set featured image Toggle panel: Opinion Writer Image Set listing image Toggle panel: Yoast SEO SEO Readability Social Focus keyphraseHelp on choosing the perfect focus keyphrase(Opens in a new browser tab) Google preview Preview as: Mobile resultDesktop result Url preview:https://newstrack.comSEO title preview: बैंगलोर: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आज सेवा निवृत्त सैनिक सम्मेलन में करेंगे शिरकत Meta description preview: भारतीय सेना के जवानों को बीएसएफ के जवानों से ज्यादा सुविधा मिलती है, इसमें कैंटीन, आर्मी स्कूल आदि की सेवाएं शामिल है।भारतीय सेना रक्षा मंत्राल य के ... Edit snippet SEO title Insert snippet variable बैंगलोर: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आज सेवा निवृत्त सैनिक सम्मेलन में करेंगे शिरकत Site title Title Primary category Separator Slug Meta description Insert snippet variable भारतीय सेना के जवानों को बीएसएफ के जवानों से ज्यादा सुविधा मिलती है, इसमें कैंटीन, आर्मी स्कूल आदि की सेवाएं शामिल है।भारतीय सेना रक्षा मंत्राल य के अधीन आती है। Site title Title Primary category Separator Close snippet editor SEO analysisEnter a focus keyphrase to calculate the SEO score Add related keyphrase Cornerstone content Toggle panel: Excerpt Excerpt बीएसएफ के जवानों को सीमा पर तैनात किया जाता है, जबकि भारतीय सेना के जवान सीमा से दूर रहते हैं और युद्ध के लिए खुद को तैयार करते हैं। साथ ही यह क्रॉस बॉर्डर ऑपरेशन भी करती है। Excerpts are optional hand-crafted summaries of your content that can be used in your theme. Learn more about manual excerpts. Toggle panel: Author Author Aditya Mishra (aditya) Toggle panel: Custom Fields Opinion Writer Toggle panel: Facebook Instant Articles Thank you for creating with WordPress.Version 5.3.6 "" Close dialog Featured Image Upload FilesMedia Library Filter MediaFilter by type Images Filter by date All dates Search Media list ATTACHMENT DETAILS Rajnath-Singh-Army-2.jpg January 14, 2021 56 KB 700 by 400 pixels Edit Image Delete Permanently Alt Text Describe the purpose of the image(opens in a new tab). Leave empty if the image is purely decorative.Title Rajnath Singh Army Caption बैंगलोर: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आज सेवा निवृत्त सैनिक सम्मेलन में करेंगे शिरकत(फोटो:सोशल मीडिया) Description Copy Link https://newstrack.com/wp-content/uploads/2021/01/Rajnath-Singh-Army-2.jpg Selected media actionsSet featured image

बैंगलोर: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आज सेवा निवृत्त सैनिक सम्मेलन में करेंगे शिरकत(फोटो:सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आज बंगलौर में भारतीय सुरक्षा बल सेवा निवृत्त सैनिक सम्मेलन में शिरकत करेंगे।  इस कार्यक्रम में सीडीएस विपिन रावत भी उपस्थित रहेंगे। भारतीय सेना और अन्य सुरक्षा बल भारत की सुरक्षा के लिए तत्पर रहते हैं।

देश की आंतरिक सुरक्षा और सीमा सुरक्षा में भारतीय सेना के साथ सीआरपीएफ, बीएसफ, आईटीबीपी, सीआईएसएफ, एसएसबी का अहम योगदान होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं ये सुरक्षा बल, भारतीय सेना से अलग होते हैं और इन्हें मिलने वाली सुविधाएं भी काफी अलग होती है।

Makar Sankranti: PM मोदी ने 4 भाषाओं में दी बधाई, ये दिग्गज ऐसे मना रहें पर्व

Rajnath Singh Army
बैंगलोर: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आज सेवा निवृत्त सैनिक सम्मेलन में करेंगे शिरकत(फोटो:सोशल मीडिया)

पैरा मिलिट्री फोर्सेज और सेना में क्या अंतर होता है?

सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्स और भारतीय सेना में काफी अंतर होता है। कई सुरक्षा बल गृह मंत्रालय के अधीन आते हैं, जिसमें सीआरपीएफ, आईटीबीपी, बीएसएफ, आसाम राइफल्स और एसएसबी शामिल है। वहीं सेना में भारतीय सेना, वायु सेना और नौसेना आते हैं।

अर्धसैनिक बल देश में रहकर या सीमा पर देश की सुरक्षा करते हैं और अर्धसैनिक बल पूरे देश में आतंकवाद औऱ नक्सलवाद विरोधी अभियानों में भी लगे हुए हैं।

भारतीय सेना जैसी सुविधाएं अर्धसैनिक बलों को नहीं मिलती हैं

वहीं वीआईपी सिक्योरिटी में भी मुख्यतौर पर अर्धसैनिक बलों के जवान ही होते हैं। सुविधाओं के नाम पर जो सहूलियतें भारतीय सेना को मिलती हैं, वैसी सुविधाएं अर्धसैनिक बलों को नहीं मिलती है।

बीएसएफ पीस-टाइम के दौरान तैनात की जाती है, जबकि सेना युद्ध के दौरान मोर्चा संभालती है।  बीएसएफ के जवानों को हमेशा सीमा की सुरक्षा के लिए तैयार रहना पड़ता है।

बीएसएफ के जवानों को सीमा पर तैनात किया जाता है, जबकि भारतीय सेना के जवान सीमा से दूर रहते हैं और युद्ध के लिए खुद को तैयार करते हैं। साथ ही यह क्रॉस बॉर्डर ऑपरेशन भी करती है।

कोरोना की सबसे खास वैक्सीनः भारत में हुई तैयार, जानें कैसे है अलग

Rajnath Singh Army
बैंगलोर: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आज सेवा निवृत्त सैनिक सम्मेलन में करेंगे शिरकत(फोटो:सोशल मीडिया)

भारतीय सेना में कौन -कौन सी रैंक होती है?

भारतीय सेना के जवानों को बीएसएफ के जवानों से ज्यादा सुविधा मिलती है, इसमें कैंटीन, आर्मी स्कूल आदि की सेवाएं शामिल है। भारतीय सेना रक्षा मंत्रालय के अधीन आती है, जबकि बीएसएफ गृह मंत्रालय के अधीन होती है।

भारतीय सेना में रैंक लेफ्टिनेंट, मेजर, कर्नल, ब्रिगेडियर, मेजर जर्नल आदि होती है, लेकिन बीएसएफ में पोस्ट कांस्टेबल, हैड कांस्टेबल, एएसआई, डीएआई, आईजी आदि होती है।

भारतीय सेना में अधिकारी एनडीए और सीडीएस के माध्यम से चुने जाते हैं और इस परीक्षा का चयन यूपीएससी की ओर से किया जाता है।  बीएसएफ में एसआई तक के उम्मीदवार एसएससी की ओर से चुने जाते हैं। वहीं बीएसएफ के डीजी आईपीएस बनते हैं।

Pongal 2021: दक्षिणवासियों का खास त्योहार, 4 दिन मनाते हैं ऐसे, जानें रीति-रिवाज

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App