बिहार ने तोड़ा अपना ही रिकॉर्ड, अब गिनीज बुक में दर्ज होगा नाम

बिहार (Bihar) में रविवार को राज्य में फैली कुरीतियों और अपराध के खिलाफ एक बहुत बड़ा अभियान चलाया गया। जिसकी पूरी फोटोग्राफी आसमान से 15 हैलीकॉप्टरों ने की।

Published by Shivani Awasthi Published: January 19, 2020 | 12:14 pm
Modified: January 19, 2020 | 7:47 pm

पटना: बिहार (Bihar) में रविवार को राज्य में फैली कुरीतियों और अपराध के खिलाफ एक बहुत बड़ा अभियान चलाया गया। जिसकी पूरी फोटोग्राफी आसमान से 15 हैलीकॉप्टरों ने की। दरअसल, बिहार में शराबबंदी और जल-जीवन-हरियाली के पक्ष में और दहेजप्रथा-बालविवाह के खिलाफ सबसे बड़ी मानव श्रृंखला (Human Chain) बनाई गयी। कार्यक्रम का आयोजन पटना के गांधी मैदान में हुआ। इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समेत कई मंत्री और अफसर मौजूद रहें।

बिहार में आज बनाई गयी सबसे बड़ी मानव श्रृंखला

दरअसल, बिहार में फैली कुरीतियों के खिलाफ प्रदेश के कई जिलों के स्कूलों, संस्थानों और कार्यालयों से लाखों की संख्या में लोगों ने रविवार को एकत्र होकर सबसे बड़ी मानव श्रृंखला बनाई। जानकारी के मुताबिक, पहले इस मानव श्रृंखला की लंबाई पहले 16,128 किलोमीटर करने का लक्ष्य था, जो जिलों की रिपोर्ट के आधार पर बढ़कर 16,370 हो गई थी।

ये भी पढ़ें: किरण मजूमदार शॉ को मिला सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ ऑस्ट्रेलिया’

बाद में शनिवार को दोबारा रिपोर्ट सौंपी गई, जिसबे बाद इसकी लंबाई 16,443 की गई। प्रत्येक किलोमीटर पर शृंखला के लिए एक नायक मौजूद रहा। पांच किलोमीटर पर एक सेक्टर ऑफिसर और 10 किलोमीटर पर सुपर सेंटर बनाया गया।

 

15 हैलीकाप्टर समेत हर एक किलोमीटर पर बाइकसवार ने की फोटोग्राफी:

इस मानव श्रृंखला की फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी की भी व्यवस्था की गयी। पूरे कार्यक्रम को कैमरे में कैप्चर करने के लिए 15 हेलिकॉप्टरों पर फोटोग्राफर और वीडियोग्राफर तैनात रहे। इसके अलावा बाइक सवार वीडियोग्राफर भी वीडियो बनाई। गांव से लेकर शहर तक हर एक किलोमीटर पर एक वीडियोग्राफर को तैनात किया गया है।

ये भी पढ़ें: एक्सीडेंट के बाद शबाना का ऐसा हाल, डॉक्टर ने दी जानकारी

कार्यक्रम में रहें ये लोग मौजूद:

मुख्य कार्यक्रम पटना के गांधी मैदान में आयोजित हुआ, जिसमें राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार शामिल हुए। उनके साथ ही सरकार के कई मंत्री और अफसर भी मौजूद रहें। मानव शृंखला में शामिल लोगों का उत्साह बढ़ान के लिए कला जत्था के कलाकार उपस्थित रहे।

 

शृंखला में शामिल होकर लोग पर्यावरण और जल बचाने का संकल्प लिया। शराबबंदी की सफलता के साथ दहेज प्रथा और बाल विवाह जैसी कुप्रथा को समाप्त करके लिए एक-दूसरे को जागरूकता का संदेश दिया।

ये भी पढ़ें: प्रिंस हैरी व मेगन ने छोड़ा शाही परिवार, ब्रिटेन की महारानी ने दी हरी झंडी, जानिए क्यों?

आप बता दें की इस मानव श्रृंखला के दौरान बिहार में एक व्यक्ति की हर्ट अटैक से मौत हो गई है,जो की एक पेशे से शिक्षक थें।

    Tags: