खोलूंगा एक-एक घोटाला! बस मोदी का मिल जाये थोड़ा साथ

सुब्रमण्यम स्वामी ने आरोप लगाते हुए कहा है कि इन दोनों कंपनियों में टीडीके और पीसी लाभार्थियों के रूप में शामिल है। अगर प्रधानमंत्री मोदी सेबी, वित्त और वाणिज्य मंत्रालय की अड़चनों को दूर कर दें, तो इसको मैं सामने लाने की कोशिश कर सकता हूं।

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर एवं वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने एनएसईएल और इंडिया बुल्स को दुनिया का सबसे बड़ा वित्तीय घोटाला करार दिया है।

सुब्रमण्यम स्वामी ने आरोप लगाते हुए कहा है कि इन दोनों कंपनियों में टीडीके और पीसी लाभार्थियों के रूप में शामिल है। अगर प्रधानमंत्री मोदी सेबी, वित्त और वाणिज्य मंत्रालय की अड़चनों को दूर कर दें, तो इसको मैं सामने लाने की कोशिश कर सकता हूं।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि एनएसईएल की सहायक कंपनी जीएसटीएन में थी, जब तक पीएम ने मेरे आग्रह पर इसका राष्ट्रीयकरण नहीं किया था।

यह भी पढ़ें. कांग्रेस के ये संकट के दिन! अब इनकी जेल जाने की आई बारी

सुब्रमण्यम स्वामी ने किया दावा…

बहरहाल, सुब्रमण्यम स्वामी ने यह दावा ऐसे समय में किया है जब पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम INX MEDIA CASE में तिहाड़ जेल में हैं।

गौरतलब है कि चिदंबरम की 14 दिनों की सीबीआई हिरासत खत्म होने के बाद उन्हें गुरुवार को उच्च सुरक्षा वाले तिहाड़ जेल भेजा गया था। वरिष्ठ कांग्रेस नेता कथित रूप से अपने बेटे कार्ति चिदंबरम के कहने पर INX MEDIA CASE को एफआईपीबी की मंजूरी दिलाने में कथित अनियमितता के कारण CBI जांच के घेरे में हैं।

यह भी पढ़ें.  आर्टिकल 370! UNHRC में आज PAKISTAN v/s INDIA

मीडिया रिपोर्ट की माने तो चिदंबरम और उनके बेटे का नाम INX MEDIA के सह संस्थापकों पीटर और इंद्राणी मुखर्जी ने लिया था। हालांकी ये दोनो मुंबई में इंद्राणी की बेटी शीना बोरा की हत्या के मामले में जेल में बंद हैं।

बहरहाल, चिदंबरम ने अपने एक ट्वीट के जरिये यह रेखांकित करने की कोशिश की है कि उन्होंने छह सदस्यी विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड एफआईपीबी की अनुशंसा पर केवल हस्ताक्षार किए थे।

साथ ही बताते चलें कि पी. चिदंबरम ने तिहाड़ जेल जाने से पहले सरकार पर निशाना साधते हुए अपनी गिरफ्तारी को राजनीतिक विद्वेष से प्रेरित बताया, इसके साथ ही उन्होंने सुस्त अर्थव्यवस्था पर केंद्र का मजाक भी उड़ाया था।

यह भी पढ़ें. अजगर की तरह सुस्त हुआ मसूद, भाई बना आतंक का सरगना

साथ ही सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि सुनवाई के बाद, चिदंबरम ने अपनी गिरफ्तारी पर और कुछ कहने के स्थान पर कहा था कि पांच प्रतिशत। क्या आप जानते हैं कि पांच प्रतिशत क्या है वह नवीनतम जीडीपी आंकड़ों का संदर्भ दे रहे थे।