Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

CAA पर सुब्रमण्‍यन स्‍वामी ने कहा- मुशर्रफ दिल्‍ली के रहने वाले, दे सकते हैं नागरिकता

तमिलनाडु से बीजेपी नेता और राज्‍यसभा सांसद स्‍वामी ने ट्वीट करते हुए कहा कि 'हम परवेज मुशर्रफ को फास्‍ट ट्रैक आधार पर नागरिकता दे सकते हैं क्‍योंकि वह दरियागंज से हैं और उत्‍पीड़न का सामना कर रहे हैं।

Harsh Pandey

Harsh PandeyBy Harsh Pandey

Published on 19 Dec 2019 7:13 AM GMT

CAA पर सुब्रमण्‍यन स्‍वामी ने कहा- मुशर्रफ दिल्‍ली के रहने वाले, दे सकते हैं नागरिकता
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: देशभर में नागरिकता संशोधन कानून(CAA) को लेकर विरोध प्रदर्शन चल रहा है। इसी बीच बीजेपी सांसद सुब्रमण्‍यन स्‍वामी ने कहा है कि अब हम सजा-ए-मौत का सामना कर रहे पाकिस्‍तान के पूर्व राष्‍ट्रपति परवेज मुशर्रफ को भी नागरिकता दे सकते हैं।

इसके साथ ही सुब्रमण्‍यन स्‍वामी ने कहा कि परवेज मुशर्रफ दिल्‍ली के दरियागंज के रहने वाले हैं और उत्‍पीड़न का सामना कर रहे हैं।

ट्वीट कर कही ये बात...

तमिलनाडु से बीजेपी नेता और राज्‍यसभा सांसद स्‍वामी ने ट्वीट करते हुए कहा कि 'हम परवेज मुशर्रफ को फास्‍ट ट्रैक आधार पर नागरिकता दे सकते हैं क्‍योंकि वह दरियागंज से हैं और उत्‍पीड़न का सामना कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें. पाकिस्तान को आया चक्कर! सीमा पर तैनात हुए लाखों की संख्या में सैनिक

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि खुद को हिंदुओं का वंशज मानने वाले सभी लोग नए नागरिकता संशोधन कानून के लिए योग्‍य हैं और उन्‍हें (नागरिकता) दी जाए।

अदालत ने सुनाई मुशर्रफ को मौत की सजा...

आपको बताते चलें कि पाकिस्तान के पूर्व सैन्य प्रमुख जनरल परवेज मुशर्रफ को वहां की एक अदालत ने मौत की सजा सुनाई है। इस फैसले के बाद पाकिस्‍तानी सेना ने मुशर्रफ का समर्थन किया था।

यह भी पढ़ें- कांपा पाकिस्तान! अभी-अभी भारत को मिली बड़ी कामयाबी, आतंकियों में हायतौबा

पाकिस्तान सरकार ने किया निर्णय...

बता दें कि सेना के बयान के बाद अब पाकिस्तान सरकार ने पूर्व राष्ट्रपति और सैन्य प्रमुख जनरल परवेज मुशर्रफ का बचाव करने का निर्णय किया है। जानकारी के लिए बता दें कि मंगलवार को एक विशेष अदालत ने राजद्रोह के एक मामले में मुशर्रफ को मौत की सजा सुनाई थी।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया फैसला अनुचित...

पाकिस्तान के अटॉर्नी जनरल अनवर मंसूर ने प्रधानमंत्री इमरान खान की विशेष सहायक फिरदौस आशिक अवान के साथ एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में मंगलवार देर रात घोषणा की कि अदालत का फैसला अनुचित है।

यह भी पढ़ें. तो इमरान देंगे इस्तीफा! मौलाना का प्लान-B हुआ तैयार, पाक PM की टेंशन टाइट

परवेज मुशर्रफ पर एक नजर...

पाकिस्तान के पूर्व तानाशाह, परवेज मुशर्रफ (76) फिलहाल दुबई में रहते हैं। सेवानिवृत्त जनरल का दुबई के अस्पताल में बढ़ती उम्र के साथ पनपी बीमारियों का इलाज चल रहा है।

आपको बताते चलें कि उन्हें बेनजीर भुट्टो हत्याकांड मामले में भी भगोड़ा घोषित किया गया है। मुशर्रफ पर 3 नवंबर 2007 को आपातकाल लगाने के लिए देशद्रोह का मामला चल रहा है।

यह भी पढ़ें. पाकिस्तान डरा! अब भारत करेगा बुरा हाल, वायुसेना का बहुत बड़ा है प्लान

Harsh Pandey

Harsh Pandey

Next Story