स्कूलों पर बड़ा ऐलान: सरकार ने लिया ये फैसला, तेजी से कर रही तैयारियां

देश में कोरोना वायरस महामारी को लेकर केंद्र सरकार लगातार इन कोशिशों में लगी हुई है कि जल्द से जल्द स्कूल और कॉलेजों को खोला जाए। जिसके लिए सरकार योजनाएं बना रही है।

स्कूलों पर बड़ा ऐलान: सरकार ने लिया ये फैसला, तेजी से कर रही तैयारियां

नई दिल्ली : देश में कोरोना वायरस महामारी को लेकर केंद्र सरकार लगातार इन कोशिशों में लगी हुई है कि जल्द से जल्द स्कूल और कॉलेजों को खोला जाए। जिसके लिए सरकार योजनाएं बना रही है। इसी सिलसिले में अब केंद्र सरकार ने अनलॉक-3 की घोषणा की है, जिसके चलते लोगों को तमाम छूटें दी गई हैं। इससे पहले अभी हाल ही में छात्रों ने यूजीसी द्वारा गाइडलाइन जारी किए जाने के बाद फाईनल ईयर की परीक्षा करवाए जाने का विरोध किया था। छात्रों का कहना था कि इससे छात्रों के स्वास्थ्य को नुकसान पहुंच सकता है। इस समय संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है।

ये भी पढ़ें… सुशांत पर बड़ी खबर: सुप्रीम कोर्ट ने दिया ये आदेश, अब कैसे होगा मौत का खुलासा

देश में अब अनलॉक-3 की प्रक्रिया के चलते गृह मंत्रालय ने तीसरे फेज़ में कई कार्यों से रोक हटा ली है लेकिन स्कूलों को अभी भी बंद ही रखने का फैसला किया गया है।

ऐसे में केंद्र सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन्स के अनुसार, सभी स्कूल, कॉलेज, कोचिंग सेंटर्स और शैक्षणिक संस्थान देश में 31 अगस्त तक बंद रखे जाएंगे। गृह मंत्रालय के अनुसार, यह फैसला अलग-अलग राज्यों और संघ राज्य क्षेत्रों से सलाह करके लिया गया है।

देशभर में कोविड-19 महामारी के मामले लगातार तेजी से बढ़ रहे हैं और स्कूल-कॉलेज खोले जाने के मामले में फैसला पूरी तरह से असेसमेंट करके ही लिया जाएगा।

ये भी पढ़ें…सुशांत और भूत का खेल: रिया ने फंसाया इस जाल में, बहन ने किया बड़ा खुलासा

स्कूलों को खोले जाने को लेकर अलग-अलग राय

देश के अधिकतर राज्यों और सीबीएसई व आईसीएसई बोर्ड के रिजल्ट घोषित किए जा चुके हैं। अलग-अलग क्लासेज के लिए एडमिशन भी किया जा रहा है। लेकिन ये सब ऑनलाइन हो रहा है। इस बारे में एक्सपर्ट्स का भी यही कहना है कि अभी स्कूल-कॉलेज खोलना ठीक नहीं होगा क्योंकि छात्रों के स्वास्थ्य को नुकसान पहुंच सकता है।

विचार किए जाने पर स्कूलों को खोले जाने को लेकर अलग-अलग राय हैं। इसमें से कुछ एक्सपर्ट्स का मानना है कि स्कूल कॉलेजों को खोल देना चाहिए। हाल ही में एम्स के कुछ डॉक्टरों की भी राय यही थी कि स्कूलों को खोल देना चाहिए इससे हर्ड इम्यूनिटी विकसित हो जाएगी।

ये भी पढ़ें…राममंदिर पर संकट: पुजारी समेत इतनों की हालत खराब, 5 अगस्त पर छाए काले बादल

इस बात को भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए

उनका मानना था कि कोविड-19 का वैक्सीन कब तक बनेगा इस बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता। यूरोपियन देशों में भी धीरे-धीरे स्कूलों को खोले जाने का काम शुरू कर दिया गया है।

ऐसे में इस बात को भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए कि भारत में स्कूलों का साइज यूरोपियन स्कूलों की तुलना में छोटा है जिससे खासकर गांवों में। इसलिए स्कूलों को खोलने से मुश्किलें और ज्यादा भी बढ़ सकती हैं। जिसके चलते बच्चों की जिंदगियों से खिलवाड़ और हल्के में नहीं लिया जा सकता।

ये भी पढ़ें…लॉकडाउन आगे बढ़ा: 31 अगस्त तक बंद रहना होगा घरों में, होंगे सख्त नियम

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App