सीमा विवाद पर भारत और चीन के बीच बड़ी बैठक, ये होंगे मुद्दे

भारत और चीन के सैन्य अधिकारियों के बीच शनिवार को लद्दाख में जारी तनाव के बीच बैठक है। भारत और चीन के कॉर्प कमांडर स्तर पर बातचीत होगी।

नई दिल्ली: भारत और चीन के सैन्य अधिकारियों के बीच शनिवार को लद्दाख में जारी तनाव के बीच बैठक है। भारत और चीन के कॉर्प कमांडर स्तर पर बातचीत होगी। लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास होनी वाली इस सैन्य बैठक के दौरान भारत अपनी तरफ से कुछ प्रस्ताव देगा।

भारत का बैठक में इलाके में यथास्थिति बरकरार रखने पर जोर रहेगा जो अप्रैल में थी। LAC के नजदीकी इलाकों से चीन की सेना पीछे हटे और तोप और बख्तरबंद गाड़ियों को पीछे ले जाए। इस बैठक में पैंगोंग त्सो पर भी भारतीय सेना फोकस रखेगी।

यह भी पढ़ें…सियासी तूफान! BJP से बगावत कर सकते हैं सिंधिया, उपचुनाव से पहले उठाया ये कदम

बता दें कि पैंगोंग झील का उत्तरी तट पर जहां चीनी सेना ने यथास्थिति में बदलाव करने की कोशिश की है। फिंगर 4 इलाकों से भारतीय सेना मांग करेगी कि सभी अस्थाई शिविरों को चीन हटा ले। भारत के जिन क्षेत्रों को चीन विवादित मानता है, वहां भारतीय सेना निर्माण कार्य जारी रखेगी। भारत चीन को यह बात बतायाएगा।

दोनों देशों के बीच कमांडर स्तर की होने वाली यह बैठक आज है। दोनों सेनाओं के बीच लद्दाख के चुशूल के सामने मोल्डो में शनिवार को बैठक होनी है। बैठक की जगह टकराव वाली जगह से 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

यह भी पढ़ें…चप्पल कांड पर मचा बवाल: कांग्रेस ने बोला बड़ा हमला, टिकटॉक स्टार पर केस दर्ज

भारत और चीन के बीच बीते कई दिनों से गतिरोध जारी है। भारत और चीन में डिविजनल कमांडर स्तर की इस बैठक पर पूरी दुनिया की नजर है। अमेरिका भी विवाद सुलझाने की पहल कर चुका है, जिसके लिए चीन और भारत तैयार नहीं हैं। दोनों देश इसे आंतरिक मुद्दा बता चुके हैं।

यह भी पढ़ें…BJP नेता मेनका गांधी के खिलाफ FIR दर्ज, हथिनी की मौत पर दिया था ये बयान

रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से दावा किया गया है कि भारत बातचीत में पैंगोंग त्सो, गलवान घाटी और डेमचोक में चीन पर तनाव कम करने के लिए दबाव बना सकता है। पूर्वी लद्दाख के इन इलाकों में बीते कई दिनों से तनाव जारी है। गलवान में तनाव कम हुआ है लेकिन पैंगोंग त्सो को लेकर दोनों देशों में ज्यादा तनाव की स्थिति बरकरार है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App