सीरम और बायोटेक के बीच विवाद खत्म, जारी किया बयान, कहा- साथ करेंगे काम

मंगलवार को साझा बयान जारी कर सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और भारत बायोटेक ने पूरे देश में सही तरीके से कोरोना वैक्सीन पहुंचाने के प्रयासों की बात कही है।

Published by Shreya Published: January 5, 2021 | 4:15 pm
SERUM-BHARAT

सीरम और बायोटेक के बीच विवाद खत्म, जारी किया बयान, कहा- साथ करेंगे काम (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: देश में डीसीजीआई द्वारा सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) की कोविशील्ड (Covishield) और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन (Covaxin) के इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी दी जा चुकी है। हालांकि मंजूरी के बाद दोनों कंपनियों के बीच तकरार देखने को मिली। लेकिन अब सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक के बीच विवाद खत्म हो चुका है और दोनों कंपनियों ने मंगलवार को साझा बयान जारी किया है। ये बयान SII के CEO अदार पूनावाला और भारत बायोटेक के अध्यक्ष डॉक्टर कृष्णा इल्ला ने जारी किया है।

दुनिया के लोगों की जान बचाना बड़ा लक्ष्य

मंगलवार को साझा बयान जारी कर सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और भारत बायोटेक ने पूरे देश में सही तरीके से कोरोना वैक्सीन पहुंचाने के प्रयासों की बात कही है। बयान में कहा गया है कि अदार पूनावाला और डॉक्टर कृष्णा इल्ला ने देश में कोरोना वैक्सीन को बनाने, सप्लाई करने और दुनिया तक पहुंचाने को लेकर चर्चा की। दोनों ही संस्थानों का मानना है कि इस वक्त भारत और दुनिया के लोगों की जान बचाना बड़ा लक्ष्य है।

यह भी पढ़ें: बर्ड फ्लू से भयानक तबाही: बंद हुई चिकन-अंडे की दुकानें, घोषित राजकीय आपदा

हमारा फोकस वैक्सीन बनाने, उसकी सप्लाई करने और बांटने पर

बयान में आगे कहा गया है कि अब जब भारत में दो कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मिल गई है तो हमारा फोकस वैक्सीन बनाने, उसकी सप्लाई करने और बांटने पर है। हमारे संस्थान देशहित में इस काम को पहले की तरह ही करते रहेंगे और आगे बढ़ेंगे। बयान में सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक ने कहा कि दोनों कंपनियां देश और दुनिया को साथ में वैक्सीन पहुंचाने का प्रण लेती हैं।

यह भी पढ़ें: चीन की बड़ी घुसपैठ: अब भी कई कंपनियां भारत में, ये आंकड़े हैरान कर देंगे

खत्म हुआ विवाद

ये साझा बयान ऐसे समय में आया है, जब दोनों ही कंपनियों के अधिकारियों के बीच बीते कुछ दिनों से जुबानी जंग जारी थी। इस विवाद में कुछ राजनेताओं ने भी बयानबाजी की थी। राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने तो सीरम इंस्टिट्यूट और भारत बायोटेक की आपसी बयानबाजी दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए पीएम मोदी से दखल देने की बात कही थी। लेकिन पूनावाला ने विवाद को सुलझाने की पहल की और अब दोनों ही कंपनियों के बीच विवाद खत्म हो चुका है।

यह भी पढ़ें: कब आएगी कोरोना वैक्सीन, किन्हें मिलेगी मुफ्त में, जानिए सभी सवालों के जवाब

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App