आ रहा भयानक तूफान: इन राज्यों में होगी भारी बारिश, पानी से मचेगी तबाही

चक्रवाती तूफान “निवार” मंगलवार से बृहस्पतिवार के बीच आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और पुडुचेरी के तटीय क्षेत्रों में आ सकता है। एनडीआरएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने तैयारियों के बारे में बताते हुए कहा कि 12 दलों की पहले तैनाती की गई है।

Cyclone Nivar

Cyclone Nivar: 120 KM की रफ्तार से चल सकती हैं हवाएं, बस-ट्रेन सेवाएं निलंबित (फोटो:सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: देश के कई राज्यों में कड़ाके की ठंड पड़ रही है, तो वहीं दक्षिण के राज्यों में भारी बारिश होने की संभावना है। इस बारिश कारण चक्रवाती तूफान निवार है। आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और पुडुचेरी में चक्रवाती तूफान निवार कहर बरपा सकता है। इससे निपटने के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) ने बड़ी तैयारी की है। एनडीआरएफ ने राहत और बचाव कार्य के लिए 30 दलों को तैयार किया है।

यह चक्रवाती तूफान मंगलवार से बृहस्पतिवार के बीच आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और पुडुचेरी के तटीय क्षेत्रों में आ सकता है। एनडीआरएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने तैयारियों के बारे में बताते हुए कहा है कि 12 दलों की पहले तैनाती की गई है, तो वहीं 18 अन्य को इन राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी में तैनात किया जाएगा। मौसम विभाग ने चेन्नई औऱ कांचीपुरम में 24 घंटे के दौरान भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

अधिकारी ने बताया कि इन दलों को प्रभावित इलाकों से स्थानीय लोगों को निकालने में मदद करने, राहत और बचाव कार्यों के लिए स्थानीय अधिकारियों के साथ समन्वय के लिए तैनात किया जाएगा। एनडीआरएफ के एक दल में कार्यों के मुताबिक, लगभग 35 से 45 जवान होते हैं। जवानों के पास पेड़, खंभों को काटने की मशीनें, सामान्य दवाएं और प्रभावितों की मदद के लिए सामग्री होती है।

ये भी पढ़ें…फिर लॉकडाउन होगा देश: आज हो सकता है ऐलान, मोदी की मुख्यमंत्रियों संग बैठक

Cyclone Nivar

कैबिनेट सचिव ने की बैठक

कैबिनेट सचिव राजीव गौबा की अध्यक्षता वाली राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन समिति ने तूफाने के खतरे को देखते हुए बैठक की। तूफान को लेकर अनेक उपायों पर विचार किया गया है। इसके साथ ही संबंधित राज्य सरकारों समेत अनेक पक्षों को प्रभावित क्षेत्रों में किसी की जान नहीं जाने देने और सामान्य स्थिति जल्द बहाल करने के आदेश दिए हैं।

ये भी पढ़ें…रेलयात्रियों के लिए बड़ी खुशखबरी: रेलवे ने चलाईं 40 ट्रेनें, देखें पूरी लिस्ट

आंध्र प्रदेश के आपदा प्रबंधन प्राधिकरण का कहना है कि बंगाल की खाड़ी में गहरे दबाव के क्षेत्र के तूफान में बदलने की संभावना है। यह तूफान 25 नवंबर को उत्तर तमिलनाडु और दक्षिण आंध्र के बीच तटीय क्षेत्र को पार कर लेगा।

ये भी पढ़ें…भयानक हादसे से कांपा देश: गंगा नदी में डूबा जहाज, कई लोग लापता, मचा हाहाकार

राज्य आपदा प्रबंधन ने कहा कि समुद्र में लहरें तेज रहेगीं। इसके साथ ही मछुआरों को तीन दिन तक पानी में नहीं जाने के लिए कहा गया है। पुडुचेरी प्रशासन ने भी तूफान से निपटने के लिए बहुस्तरीय योजना तैयार की हुई हैं।

दक्षिण के राज्यों में बारिश हो रही है, तो वहीं उत्तर भारत में पहाड़ों पर बर्फबारी और ठंडी हवाओं के कारण कड़ाके की ठंड़ पड़ रही है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App