×

MNC में काम करने वाली कश्मीरी लड़की बनी आतंकी, ISIS से ऐसे हुआ संपर्क

इस साल मार्च महीन में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने ISIS के संदिग्ध आतंकी होने के मामले में कश्मीर की रहने वाली हिना बेग को उसके पति जहानजेब के साथ गिरफ्तार किया था।

Shreya
Updated on: 22 May 2020 4:26 AM GMT
MNC में काम करने वाली कश्मीरी लड़की बनी आतंकी, ISIS से ऐसे हुआ संपर्क
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: इस साल मार्च महीन में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने ISIS के संदिग्ध आतंकी होने के मामले में कश्मीर की रहने वाली हिना बेग को उसके पति जहानजेब के साथ गिरफ्तार किया था। हिना बेग की इंटरोगेशन रिपोर्ट से ये पता चलता है कि एमबीए पास और एक मल्टीनेशनल कंपनी में काम करने वाली हिना बेग आखिर कैसे जिहादी बन गई।

जाने माने इंटरनेशनल कंपनी में काम करती थी हिना

हिना बेग जम्मू कश्मीर की रहने वाली है और वहीं से कान्वेंट स्कूल से पढ़ाई की। उसके बाद पुणे यूनिवर्सिटी से हिना ने एमबीए किया और जानी मानी कंपनियों के साथ काम किया। हिना एक मॉर्डन सोच की लड़की थी। लेकिन हिना की इस्लाम के प्रति उस वक्त रुचि होने लगी जब वो साल 2015 में अपने भाई जुबैर की पत्नी डलिया सचदेवा से मिली। डलिया एक हिंदू लड़की थी।

इसके बाद इस्लान के प्रति हुआ झुकाव

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो हिना और डलिया सचदेवा की मुलाकात में इस्लाम पर काफी चर्चा हुई। इसके बाद से हिना ने इस्लामिक किताबों को पढ़ना शुरू कर दिया। मॉर्डन सोच और मॉर्डन कपड़े पहनने वाली लड़की ने अब हिजाब पहनना शुरू कर दिया था। इन सब के बाद हिना में अचानक ही काफी बदलाव हो गया।

यह भी पढ़ें: क्वारंटाइन सेंटर में प्रवासी मजदूर की मौत, सवालों के घेरे में प्रशासन

फेसबुक पर जॉइन किया 'स्कॉलर्स ऑफ हक' पेज

रिपोर्ट के मुताबिक, इसके अलावा हिना ने जाकिर नाइक, साउथ अफ्रीका के मुफ्ती मेंक, मोहम्मद फैज औरंगाबाद के बयान भी सोशल मीडिया पर सुनने शुरू कर दिया। साथ ही उसने इस्लाम को समझने और इससे जुड़ी और बातों को जानने के लिए फेसबुक पर 'स्कॉलर्स ऑफ हक' पेज को भी जॉइन कर लिया।

2016 में सीरिया और आईएसआईएस के बारे में सुना

साल 2016 में हिना बेग ने सीरिया और आईएसआईएस आतंकी संगठन के बारे में सुना और फिर गूगल, फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर ISIS के बारे में लगातार सर्च करने लगी और उनके बारे में पढ़ने लगी। इस दौरान हिना को मालूम हुआ कि कश्मीर की तरह सीरिया में भी कई आतंकी संगठन हैं, जो आपस में लड़ रहे हैं।

आईएसआईएस की फॉलोवर बनी हिना

आईएसआईएस को लगातार जानने के बाद और उसके बारे में पढ़ने के बाद हिना अब आतंकी संगठन की फॉलोवर बन गई। हिना ने फेसबुक पर सीरिया, इजरायल और फलस्तीन को लेकर खूब पोस्ट डालने लगी, जिसके बाद फेसबुक ने हिना की आईडी को डिसेबल कर दिया।

यह भी पढ़ें: शर्मनाक: कोरोना पीड़ित को नहीं मिली एंबुलेंस, 3 किमी पैदल चलकर पहुंचा अस्पताल

इसलिए की जहानजेब से शादी

जानकारी के मुताबिक, हिना ने आईएसआईएस की विचारधारा फैलाने के लिए कश्मीरी मूल के जहानजेब से शादी कर ली। हिना और जहानजेब की बातचीत साल 2016 में फेसबुक पर शुरू हुई थी। दोनों ही इस्लाम के सलाफी/वहाबी विचारधारा के मानने हैं और एक ही पेज से जुड़े थे। बाद में हिना ने इस्लामिक स्टेट को फैलाने के मकसद से जहानजेब से शादी कर ली।

टेलीग्राम ने डिलीट कर दिया था आईडी

हिना अब जहानेजब का साथ पाने के बाद और कट्टर हो चुकी थी। हिना सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लगातार कश्मीर और सीरिया को लेकर भड़काने वाले मैसेज किया करती। जिसका परिणाम ये रहा है कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म टेलीग्राम ने भी उसकी आईडी डिलीट कर दी।

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन लगाने में देरी से अमेरिका में इतनी ज्यादा मौतें, नई स्टडी में खुलासा

इसके बाद हिना के पति जहानजेब ने अमेरिका का एक वर्चुअल नंबर जनरेट करके हिना को दिया। इस नंबर के जरिए हिना ने दोबारा टेलीग्राम पर नई आई बना ली और फिर लगातार सीरिया में मौजूद आतंकियों के साथ-साथ कट्टरपंथियों से बातचीत करने लगी।

हिना और सादिया के बीच बातचीत

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म टेलीग्राम पर ही हिना की बातचीत कश्मीर की सादिया से शुरू हो गई। बता दें कि सादिया को कश्मीर में पुलिस ने आतंकी जाकिर मूसा से लिंक होने के आरोप में गिरफ्तार किया था। काउंसलिंग करने के बाद उसे छोड़ दिया गया था। हिना और सादिया के बीच लगातार कश्मीर में आईएस का नेटवर्क फैलाने पर बाते हुआ करती थी।

यह भी पढ़ें: इस जिले से चली कई श्रमिक स्पेशल ट्रेनें, सात हजार लोग मुस्कुराते हुए रवाना

सादिया का मन था कि वो कश्मीर में आईएसआईएस के हेड वकार से शादी करे, लेकिन वकार ने इसके लिए मना कर दिया और फिर क्या था सादिया आईएसआईएस के खिलाफ खड़ी हो गया। उसके बाद वो अल कायदा से जुड़े कश्मीर में सक्रिय आतंकी संगठन गजवत उल हिंद के समर्थन में आ गई थी।

कट्टरपंथियों की तलाश करती थी हिना

हिना को मालूम था कि उसके पति जहानजेब का संपर्क आईएसआईएस और इस्लामिक स्टेट खुरासान (आईएसकेपी) के आतंकियों से है, जो भारत में मौजूद हैं और सक्रिय हैं। हिना सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर कट्टरपंथियों की तलाश करने लगी और उनसे बातचीत करने लगी। उसके बाद उनसे संपर्क बना अपने पति जहानजेब से संपर्क करवाने में लग गई।

यह भी पढ़ें: इस जिले से चली कई श्रमिक स्पेशल ट्रेनें, सात हजार लोग मुस्कुराते हुए रवाना

दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार

जहानजेब उन सभी की ब्रेन ट्रेनिंग करने लगा और उन्होंने इस्लामिक स्टेट खुरासान मॉड्यूल के लिए भर्ती करने लगा। आतंकी बेस तैयार करने के बाद ये दिल्ली में बड़े आतंकी साजिश को अंजाम देने की कोशिश में थे। लेकिन दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इन्हें गिरफ्तार कर लिया।

साथ ही पुलिस ने दोनों संदिग्धों के पास से संवेदनशील सामग्रियां भी बरामद की हैं। पुलिस के मुताबिक, दोनों संदिग्ध आतंकवादी आत्मघाती हमले की फिराक में थे। दोनों पति-पत्नी पिछले साल 2019 में अगस्त महीने से ही दिल्ली में रह रहे थे। दोनों के पास से आपत्तिजनक दस्तावेज भी बरामद हुए थे। फिलहाल इस मामले की जांच एनआईए कर रही है।

यह भी पढ़ें: राशिफल 22 मई : कैसा रहेगा अमावस्या का दिन इन राशियों के लिए,जानिए…

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story