ट्रंप ही नहीं इस राष्ट्रपति के भारत दौरे पर भी हुई थी दिल्ली जैसी हिंसा

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत आते ही दिल्ली के हालत खराब हो गये। ट्रंप से पहले अमेरिका के एक और राष्ट्रपति के भारत आगमन पर हिंसक घटना हुई थी

Published by Shivani Awasthi Published: February 25, 2020 | 5:02 pm
Modified: February 25, 2020 | 5:09 pm

दिल्ली: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत में दो दिवसीय दौरे पर हैं। उनके आते ही दिल्ली के हालत खराब हो गये। महीनों से सीएए के खिलाफ हो रहा विरोध प्रदर्शन अचानक उग्र हो गया। इस दौरान सोमवार-मंगलवार यानी ट्रंप के दौरे के बीच दिल्ली में जमकर आगजनी, पत्थरबाजी और गोलीबारी हुई। जिसमें सात लोगों की मौत हो गयी। लेकिन ट्रंप वो पहले राष्ट्रपति नहीं हैं, जिनके भारत दौरे के दौरान देश के हालात ऐसे हुए हों। ट्रंप से पहले अमेरिका के एक और राष्ट्रपति के भारत आगमन पर दर्दनाक हिंसक घटना हुई थी, जिसमें लाशों के ढेर लग गये थे।

ट्रंप के भारत दौरे के बीच जलकर ख़ाक हुई दिल्ली:

जब दिल्ली जल रही थी, सिसक रही थी तो अमेरिकी डोनाल्ड ट्रंप भारत में दौरे पर आये हुए थे। एक ओर उनका अहमदाबाद में ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम हो रहा था तो वहीं दिल्ली को आग के हवाले किया जा रहा था। ट्रंप गुजरात से आगरा ताजमहल के दीदार के लिए पहुंचे तो दिल्ली में एक कांस्टेबल की मौत से पुलिस में हड़कंप मच गया।

ये भी पढ़ें: ट्रंप का भारत दौरा विदेशी मीडिया में छाया: जानें किसने क्या लिखा…

भारत-अमेरिकी के बीच हुई बड़ी डील: 3 अरब डॉलर के रक्षा सौदे पर भी बनी बात

हालाँकि ट्रम्प अपने परिवार के साथ आगरा से दिल्ली पहुंचे, जहां वे मौर्या होटल में रुके। पूरी रात दिल्ली में तनाव बना रहा। आज भी दिल्ली की हालत वैसी ही है। दिल्ली की नजारा ईराक या सीरिया से कम नहीं हैं, यहां सब कुछ जल कर राख होता नजर आ रहा है।

बिल क्लिंटन का दौरा और अनंतनाग हिंसा

हालाँकि इससे पहले जब अमेरिका के राष्ट्रपति बिल क्लिंटन भारत आये थे, तब भी कुछ कुछ ऐसी ही हिंसा भारत में देखने को मिली थी। 20 मार्च 2000 में जब लोग रेडियो पर अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन की भारत यात्रा की खबरें सुन रहे थे, तब एक ऐसी घटना घटी, जिससे दिल दहल गया।

ये भी पढ़ें: ट्रंप को है दिल्ली हिंसा की जानकारी! जानें, बवाल से अमेरिकी राष्ट्रपति का कनेक्शन

Trump copied clinton on impeachment inquiry for attacking Iran

दरअसल, श्रीनगर से सटे अनंतनाग जिले के छत्तीसिंहपुरा गांव में उसी रात तकरीबन 40-50 आतंकी घुस गये और जबरन सिख लोगों को घरों से बाहर निकालना शुरू कर दिया। आतंकियों ने ऑटोमेटिक रायफलों से गोलीबारी शुरू कर दी। कोई कुछ समझ पाटा तब तक गाँव में मौत का मंजर पसर गया। कुछ मिनटों में 35 लोगों की मौत हो गयी।

पूरी दुनिया की नजर क्लिंटन की भारत यात्रा की थी लेकिन इस घटना ने विश्व के रोंगटे खड़े कर दिए। जानकारी के मुताबिक, इस हत्याकांड में लश्‍कर-ए-तैयबा के आतंकियों का हाथ था, जो भारतीय सेना की वर्दी पहन कर गाँव में घुसे थे।

ये भी पढ़ें: ताजमहल पर ट्रंप ने उठाये सवाल: जवाब जान रह जायेंगे हैरान

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App